वृद्धजन दिवस पर अपने बड़ों को बताईए देश में मिलने वाली ये सुविधाएं

0
0
वृद्धजन दिवस

वृद्धजन दिवस 1 अक्टूबर को है। वृद्धजन दिवस पर आप इस बार अपने बुजुर्गों को देश में मिलने वाली सुविधाओं की विस्तृत जानकारी दे सकते हैं। वृद्धजन दिवस पर इससे बड़ी बात क्या होगी कि आप अपने वरिष्ठों को उनके जीवन को आसान बनाने वाली बातों की जानकारी दें।

वैसे तो वरिष्ठजनों का सम्मान हर दिन, हर पल हमारे मन में होना चाहिए, लेकिन उनके प्रति मन में छुपे इस सम्मान को व्यक्‍त करने के लिए एवं बुजुर्गों के प्रति चिंतन की आवश्यकता के लिए औपचारिक तौर पर भी एक दिन निश्चित किया गया है। अत: प्रतिवर्ष 1 अक्टूबरका दिन अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के रूप में मनाया जाता है।
अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस मनाने की शुरुआत सन् 1990 में की गई थी। विश्व में बुजुर्गों के प्रति होने वाले दुर्व्यवहार और अन्याय को रोकने के लिए लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए 14 दिसंबर 1990 को यह निर्णय लिया गया। तब यह तय किया गया कि हर साल 1 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के रूप में मनाया जाएगा, और 1 अक्टूबर 1991 को पहली बार अंतरराष्ट्रीय बुजुर्ग दिवस या अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस मनाया गया।
हालांकि इसके पहले भी बुजुर्गों के प्रति चिंता व्यक्त करते हुए, उनके लिए इस तरह की पहल की जा चुकी थी। सन् 1982 में विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा, “वृद्धावस्था को सुखी बनाइए” का नारा देकर “सबके लिए स्वास्थ्य” अभियान शुरू किया। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा 1991 में अंतरराष्ट्रीय बुजुर्ग दिवस की शुरुआत के बाद 1999 को “अंतरराष्ट्रीय बुजुर्ग वर्ष” के रूप में मनाया गया था।

हम सब जानते हैं कि रिटायरमेंट के बाद यानि 60 साल की उम्र के बाद जिंदगी पूरी तरह से बदल जाती है। सरकार की तरफ से देश के वरिष्‍ठ नागरिकों के जीवन को कम तनावपूर्ण बनाने और उन्‍हें सशक्‍त महसूस कराने के मकसद से कई योजनाएं संचालित होती हैं। मगर ज्यादातर वरिष्ठ नागरिक इन योजनाओं की जानकारी नहीं रख पाते। सरकारी योजनाओं  का मकसद वरिष्‍ठ नागरिकों को सुविधा मुहैया कराना है। साल 2016 में आई सांख्यिकी मंत्रालय की एक रिपोर्ट के मुताबिक देश में 10 करोड़ से ज्‍यादा वरिष्‍ठ नागरिक हैं। निश्चित तौर पर इस संख्‍या में पिछले 10 सालों में इजाफा हुआ है।

सुविधाएं

देश में सरकार ने वरिष्‍ठ नागरिकों को यात्रा से लेकर स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं और इनकम टैक्‍स तक में छूट दी गई है। अधिकतर लोगों को इसकी सही व पूरी जानकारी नहीं होती है। इसीलिए आप अपने घर या आसपास के वरिष्ठ नागरिकों को वरिष्ठ नागरिक दिवस का उपहार इन योजनाओं की विस्तृत जानकारी के रूप में दे सकते हैं।

इनकम टैक्‍स

60 साल या उससे अधिक आयुवाले वरिष्ठ नागरिक को आयकर विभाग से विशेष छूट मिलती है। ऐसे वरिष्ठ नागरिकों की आय अगर तीन लाख रुपए तक है, तो उन्हें 3 लाख रुपए तक आय पर टैक्स देने की ज़रूरत नहीं है। सुपर सीनियर सिटीजन यानी जिन वरिष्ठ नागरिकों की उम्र 80 साल से अधिक है, उन्हें पांच लाख रुपए तक की आय पर कर देने की जरूरत नहीं है। इनकम टैक्‍स एक्‍ट 1961 की धारा 80डी के तहत वरिष्ठ नागरिकों को हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम पर 30 हजार रुपए तक छूट मिलती है। अगर कोई वरिष्ठ नागरिक किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है, तो वह धारा 80डीडीबी के अंतर्गत 60 हजार रुपए तक डिडक्शन का लाभ उठा सकते हैं। इसके अलावा सुपर सीनियर सिटीजन के लिए यह सीमा बढ़ाकर 80 हजार रुपए तक की गई है।

यात्रा में मिलने वाली छूट

60 साल या उससे ज्‍यादा उम्र वाले वरिष्ठ नागरिक को अधिकतर सरकारी और निजी हवाई कंपनियां टिकट पर 50% की छूट देती हैं। सभी हवाई कंपनियों के छूट के नियम व शर्तें अलग-अलग होती हैं। कुछ हवाई कंपनियां 65 साल पार कर चुके वरिष्ठ नागरिकों को 50% की छूट देती हैं। इसलिए ये बहुत जरूरी है कि टिकट लेते समय विभिन्न हवाई कंपनियों के छूट के नियम व शर्तों के बारे में पूरी जानकारी हासिल कर ली जाए।

रेल यात्रा

भारतीय रेलवे ने भी वरिष्ठ नागरिकों को रेल यात्रा के दौरान विशेष सुविधाएं प्रदान की हैं। जिन पुरुष यात्रियों की आयु 60 साल या उससे अधिक है, तो उन्हें सभी क्लास की टिकटों पर 40% की छूट दी गई है। इसी तरह से महिला यात्रियों को, जिनकी आयु 58 साल या उससे अधिक है, उन्हें सभी क्लास की टिकटों पर 50% की छूट दी गई है। वरिष्ठ नागरिकों के लिए सरकार ने टिकट रिज़र्वेशन काउंटर पर एक अलग टिकट काउंटर बनाए हैं। सरकार ने मुख्य स्टेशनों पर वरिष्ठ नागरिकों के लिए व्हील चेयर की सुविधा भी प्रदान की है।

बस यात्रा

वरिष्ठ नागरिकों को सुविधा प्रदान करने हेतु कुछ राज्यों की सरकारों और वहां के नगर निगम पालिकाओं ने उन्हें बस किराए में रियायत दी है। यहां तक कि उनके लिए बस में कुछ सीटें भी आरक्षित की हैं।

ब्याज दर में छूट

रिटायरमेंट के बाद वरिष्ठ नागरिक बैंक में फिक्स्ड डिपॉजिट्स करना ज्‍यादा पसंद करते हैं, ताकि फिक्स्ड डिपॉजिट्स पर मिलनेवाले ब्याज से उन्हें अतिरिक्त आय हो सके। बैंक भी उनकी इस सुविधा को ध्यान में रखते हुए समय-समय पर ऐसी योजनाएं लागू करते रहते हैं, जिससे वरिष्ठ नागरिकों को उनके द्वारा किए गए निवेश पर ज्‍यादा से ज्‍यादा ब्याज मिल सके।

अगर किसी वरिष्ठ नागरिक को लोन की आवश्यकता है, तो बैंक उन्हें फिक्स्ड डिपॉजिट पर लोन भी देते हैं। बैंक वरिष्ठ नागरिकों को सामान्य उपभोक्ताओं की तुलना में कम ब्याजदर पर लोन देते हैं। सभी बैंकों की ब्याज दर अलग-अलग होती है, इसलिए लोन लेने से पहले ब्याज दर से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर लें।

विशेष योजनाओं में छूट

सरकार ने बुजुर्गों के स्वास्थ्य और सहूलियत को ध्यान में रखकर कुछ सीनियर सिटीजन वेलफेयर स्‍कीम लागू की हैं, जो इस प्रकार से हैं-

नेशनल इंश्योरेंस कंपनी (राष्ट्रीय बीमा कंपनी) ने 60-80 आयुवाले वरिष्ठ नागरिकों के लिए वरिष्ठ मेडिक्लेम पॉलिसी प्रदान की है। इसके अंतर्गत अस्पताल में भर्ती होने के लिए अधिकतम बीमा राशि एक लाख रुपए और गंभीर बीमारी के लिए अधिकतम बीमा राशि दो लाख रुपए है।

एलआईसी ने भी वरिष्ठ नागरिकों के लिए वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना 2017 लागू की है. 60 साल या उससे अधिक आयुवाले वरिष्ठ नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना के तहत एलआईसी गारंटी के साथ 10 साल के लिए 8 फीसदी रिटर्न उपलब्ध कराएगी। वरिष्ठ नागरिक इस पेंशन योजना में साढ़े सात लाख रुपए का निवेश कर सकते हैं। वे मासिक, तिमाही, छमाही और सालाना आधार पर भुगतान का विकल्प चुन सकते हैं।

केंद्र सरकार ने बुजुर्गों के लिए ‘प्रधानमंत्री व्‍यय वंदन योजना’ शुरू की है। वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू की गई इस योजना में 60 साल या उससे अधिक आयुवाले नागरिक निवेश कर सकते हैं। बुज़ुर्ग निवेशक इस योजना में 15 लाख रुपए तक निवेश कर सकते हैं।

इसके अंतर्गत उन्हें 10 साल तक 8 फीसदी सालाना रिटर्न की गांरटी के साथ पेंशन दी जाती है। बुजुर्ग निवेशक मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर पेंशन ले सकते हैं। इस योजना के तहत बुज़ुर्गों को 10 साल की अवधि तक न्यूनतम एक हज़ार रुपए मासिक पेंशन की गारंटी है।

टेलीफोन बिल पर छूट

बीएसएनएल में 65 साल से अधिक उम्रवाले वरिष्ठ नागरिक प्राथमिकता के आधार पर टेलीफोन के रजिस्‍ट्रेशन के योग्‍य हैं। वरिष्ठ नागरिक अगर अपने नाम पर टेलीफोन का पंजीकरण कराते हैं, तो उन पर कोई रजिस्‍ट्रेशन फीस नहीं लगेगी। एमटीएनएल लैंडलाइन टेलीफोन लगाने के लिए 65 साल से अधिक उम्रवाले बुजुर्गों के लिए इंस्टॉलेशन चार्जेस और उसके मासिक सेवा शुल्क पर 25% की छूट है।

वृद्धजन दिवस पर कई सरकारी और गैरसरकारी स्तर पर कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। इस बार सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय 1 अक्टूबर,  2021 को प्रातः 11:55 से 1 बजकर 5 मिनट तक प्लेनरी हॉल, विज्ञान भवन, नई दिल्ली में अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर वरिष्ठ नागरिकों के सम्मान में ‘वयो नमन’ कार्यक्रम का आयोजन करेगा। मंत्रालय वृद्धजनों के लिए हर वर्ष 1 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस मनाता है।

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे और ‘वयोश्रेष्ठ सम्मान’ पुरस्कार प्रदान करेंगे। श्री नायडू इस अवसर पर एल्डरली लाइन 14567 को राष्ट्र को समर्पित करेंगे और सीनियर एबल सिटिजन रिएम्प्लॉयमेंट इन डिग्निटी (एसएसीआरईडी) और सीनियर केयर एजिंग ग्रोथ इंजन (सीएजीई) पोर्टल्स का शुभारंभ करेंगे।

केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेंद्र कुमार, सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री श्रीमती प्रतिमा भौमिक, श्री रामदास अठावले, श्री ए नारायणस्वामी और श्री आर. सुब्रह्मण्यम और सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता सचिव भी इस कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here