मीडिया और मनोरंजन सप्ताह का उद्घाटन दुबई में मीडिया और मनोरंजन में कारोबार में ये हैं नई संभावनाएं

0
19
मीडिया और मनोरंजन सप्ताह का उद्घाटन फोटो पीआईबी

दुबई में मीडिया और मनोरंजन सप्ताह का उद्घाटन हुआ। सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव अपूर्व चंद्रा ने बॉलीवुड अभिनेता आर. माधवन की उपस्थिति में दुबई एक्सपो में इंडिया पवेलियन में ‘मीडिया एवं मनोरंजन सप्ताह’ का उद्घाटन किया। श्री चंद्रा मंत्रालय के एक प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे हैं जिसमें दूरदर्शन के महानिदेशक मयंक अग्रवाल, सूचना और प्रसारण मंत्रालय में संयुक्त सचिव विक्रम सहाय और केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के सीईओ एवं भारतीय राष्ट्रीय फिल्म विकास निगम के प्रबंध निदेशक रविंदर भाकर शामिल हैं।

सूचना और प्रसारण सचिव ने चैनल-2 ग्रुप कॉरपोरेशन के अध्यक्ष श्री अजय सेठी के साथ बैठक की। श्री सेठी ने श्री चंद्रा को भारत में खेलों के प्रति समर्पित एक लाइव रेडियो चैनल शुरू करने के अपनी कंपनी के दृष्टिकोण से अवगत कराया। श्री सेठी ने कहा, “भारत में रेडियो पर लाइव क्रिकेट के वर्तमान प्रसारण में गुणवत्ता एवं कंटेंट की कमी है और इसमें लगभग 11 सेकंड की देरी भी है।” कंपनी ने श्री कपिल देव और श्री सुनील गावस्कर सहित खेल जगत के विभिन्न सितारों को अपने साथ जोड़ा है। उन्होंने कहा कि उनकी कंपनी बुनियादी ढांचे, विपणन और कंटेंट के मामले में निवेश करने के लिए तैयार है और चैनल के संदर्भ में भारत सरकार से सहयोग चाहती है। वर्तमान में, वे प्रसार भारती के साथ 60:40 के राजस्व बंटवारे के मॉडल के आधार पर काम कर रहे हैं, लेकिन कंटेंट तैयार नहीं कर रहे हैं।

श्री सेठी ने सूचना और प्रसारण सचिव को बताया कि उनकी कंपनी दुबई में एफएम चैनल, केन्या में टीवी चैनल, कैरिबियन एवं दक्षिण अफ्रीका में मीडिया सिटी, क्रिकेट टीमों सहित अन्य प्रमुख गतिविधियों का संचालन करती है। इस कंपनी के पास आईसीसी के वैश्विक क्रिकेट से संबंधित रेडियो अधिकार हैं। सूचना और प्रसारण सचिव ने इस उद्यम को और आगे बढ़ाने में मंत्रालय की ओर से हरसंभव सहयोग का आश्वासन दिया।

इंडिया पवेलियन में एनिमेशनविजुअल इफेक्ट्सगेमिंग और कॉमिक्स (एवीजीसी) से जुड़ी कंटेंट के निर्माण में भारत के साथ सहयोग’ विषय पर आयोजित एक गोलमेज चर्चा में, श्री चंद्रा ने भारत में एवीजीसी के क्षेत्र में उपलब्ध अवसरों पर प्रकाश डाला। श्री चंद्रा ने यह भी कहा कि “भारतीय मीडिया एवं मनोरंजन उद्योग दुनिया में सबसे तेजी से विकसित होने और सबसे अधिक दिखाई देने वाले उद्योगों में से एक है। भारतीय मीडिया एवं मनोरंजन उद्योग का व्यवसाय 28 बिलियन अमेरिकी डॉलर का है और इसके वर्ष 2030 तक 12 प्रतिशत की संचयी वृद्धि दर से बढ़कर 100 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच जाने का अनुमान है। भारत के पास इस उद्योग के लिए आवश्यक प्रतिभा और रचनात्मक कौशल उपलब्ध है।” सूचना और प्रसारण सचिव ने इस बात का उल्लेख किया कि इस क्षेत्र में काम करने वाली कंपनियों को और अधिक सुविधा प्रदान करने के लिए एवीजीसी नीति तैयार करने के उद्देश्य से सूचना और प्रसारण मंत्रालय मार्च 2022 के अंत तक एक एवीजीसी टास्क फोर्स का गठन करेगा।

श्री आर. माधवन ने एवीजीसी क्षेत्र की ओर ध्यान देने के लिए भारत सरकार की सराहना की और भारतीयों की प्रतिभा तथा इस क्षेत्र में विकास की संभावनाओं पर जोर दिया।

श्री रविंदर भाकर ने कौशल को निखारने और एक प्रतिभा भंडार (टैलेंट पूल) के निर्माण के महत्व पर प्रकाश डाला जोकि दीर्घकालिक अवधि में भारतीय मीडिया एवं मनोरंजन उद्योग को लाभान्वित करेगा।

गोलमेज में भारत, दुबई और अन्य देशों के उद्योग जगत के प्रतिनिधियों ने अपने विचार प्रस्तुत किये और इस बात पर सहमति व्यक्त की कि भारत एवीजीसी क्षेत्र में आउटसोर्सिंग के लिए बड़े अवसर प्रदान करता है। प्रतिनिधियों ने इस बात पर भी बल दिया कि दोनों देशों के बीच मजबूत सहयोग की आवश्यकता है, ताकि भारत और मध्य पूर्वी देशों के निजी क्षेत्र के बीच आपसी सहभागिता को बढ़ावा दिया जा सके।                                     

आने वाले पखवाड़े में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय पवेलियन के विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेगा। मंत्रालय परस्पर सहयोग के लिए संयुक्त अरब अमीरात के साथ एक समझौता ज्ञापन को भी औपचारिक रूप प्रदान करेगा। आपसी विचार-विमर्श अगले कुछ महीनों तक जारी रहेगा  और अगले 6-8 महीनों में एमओयू पर हस्ताक्षर होने की उम्मीद है।

आगामी भारतीय फिल्म आरआरआर को सचिव, निर्देशक एस.एस. राजामौली तथा अभिनेता राम चरण और एनटी रामा राव जूनियर की उपस्थिति में वैश्विक स्तर पर लॉन्च किया गया। यह लॉन्च वैश्विक मीडिया कंपनियों और भारत व यूएई के प्रमुख प्रतिनिधियों की उपस्थिति में किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four + 1 =