पंचतत्व में विलीन हुए राम विलास पासवान, बेटे चिराग के साथ कई आंखें हुईं नम

0
54

इंडिया विस्तार डेस्क। दिवंगत केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान पंचतत्व में विलीन हो गए हैं। शनिवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ दीघा घाट में उनका अंतिम संस्कार किया गया। बता दें कि लोकजनशक्ति पार्टी के संस्थापक रहे रामविलास पासवान की अंतिम यात्रा उनके पटना निवास से निकली। अंतिम यात्रा के दौरान उनके समर्थकों का हुजुम अपने नेता की आखिरी झलक देखने को उमड़ पड़ा।

बेटे चिराग ने अपने पिता को कंधा दिया तो लोगों की आंखें भर आईं। शुक्रवार शाम पासवान का पार्थिव शरीर पटना पहुंचा था। एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अलावा कई बड़े नेता रामविलास को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे। एयरपोर्ट पर भी चिराग भावुक दिखे और हाथ जोड़कर अपने पिता को नमन कर श्रद्धांजलि दी।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद और नित्यानंद राय, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील मोदी भी रामविलास पासवान की अंतिम यात्रा के दौरान पटना के दीघा घाट में मौजूद रहे। दिवंगत केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के अंतिम दर्शन के लिए हजारों की तादाद में लोग उनके आवास पहुंचे थे। इस क्रम में भाजपा सांसद राम कृपाल यादव, जदयू नेता आरसीपी सिंह और  एमएलसी संजीव सिंह, राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दकी, पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय और रालोसपा प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा भी पहुंचे।

इनके अलावा हाजीपुर से बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। पासवान की अंतिम यात्रा में शामिल होने के लिए पंजाब से भी कई लोग आए।  वहीं सुबह-सुबह रामविलास पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी देवी भी अपने गांव से अंतिम दर्शन को पटना स्थित आवास पहुंचीं। आंसुओं से भरी आंखों के साथ जैसे ही वह पहुंची तो शव देखकर जार-बेजार होकर रोने लगीं। इस मौके पर चिराग पासवान सहित परिवार के तमाम लोगों मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 − twelve =