Loksabha election 2024-एमपी के इस जिले में जाने वाले 8 सीएम की कुर्सी चली गई !

Loksabha election 2024-कई क्षेत्र ऐसे होते हैं जहां से कोई ना कोई मिथक जुड़ा होता है। हम यहां मध्य प्रदेश के एक जिले के बारे में बताने जा रहे हैंं जहां जाने वाले 8 सीएम अपनी कुर्सी गंवा चुके हैं।

0
19
Loksabha election 2024
Loksabha election 2024

Loksabha election 2024-कई क्षेत्र ऐसे होते हैं जहां से कोई ना कोई मिथक जुड़ा होता है। हम यहां मध्य प्रदेश के एक जिले के बारे में बताने जा रहे हैंं जहां जाने वाले 8 सीएम अपनी कुर्सी गंवा चुके हैं। हालांकि यूपी के सीए योगी आदित्यनाथ इस जिले में कई बार जा चुके हैं। सीएम योगी वैसे भी इन सब मिथकों से डरते नहीं हैं। इससे पहले वह गौतमबुद्ध नगर यानि नोएडा का मिथक भी तोड़ चुके हैं।

Loksabha election 2024-यह है मध्य प्रदेश का जिला जिससे जुड़ा है मिथक

मध्य प्रदेश का जिला अशोक नगर है। अशोक नगर से एक मिथक जुड़ा हुआ है कि जो भी सीएम यहां आता है वह मुख्यमंत्री की कुर्सी पर नहीं रह पाता है। बताते हैं कि इस मिथक के चलते 8 सीएम अपनी कुर्सी गंवा चुके हैं। हालांकि सीएम योगी आदित्यनाथ यहां साढ़े पांच महीने में दो बार आ चुके हैं। प्रदेश के सीएम रहे शिवराज सिंह चौहान सीएम रहते अशोक नगर नहीं गए। वर्तमान सीएम डा. मोहन .ादव भी अभी तक वहां नहीं गए हैं।

http://abplive.com की एक रिपोर्ट में राजनीति में रूचि रखने वाले स्थानीय बुजुर्गों के हवाले से बताया गया है कि साल 1975 में त्तकालीन सीएम प्रकाश चंद सेठी कांग्रेस के राज्य स्तरीय अधिवेशन में शामिल होने यहां आए थे। लेकिन बाद में वह सीएम नहीं रहे। 1977 में सीएम डा. श्यामाचरण शुक्ल तुलसी सरोवर का लोकार्पण करने अशोक नगर गए।

इसके बाद विरेंद्र सखलेवा, कैलाश जोशी अशोक नगर गए। 1983 में सीएम अर्जुन सिंह कांग्रेस महासचिव राजीव गांधी के साथ अशोक नगर गए। 1986 में सीएम मोतीलाल वोरा रेलवे स्टेशन पर ओवरब्रिज का भूमि पूजन करने आए। साल 1992 में सीएम सुंदरलाल पटवा और 2003 में सीएम दिग्विजय सिंह ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ अशोक नगर पहुंचे थे। कहा जाता है कि इन सभी ने कुछ ही समय बाद सीएम की कुर्सी गंवा दी।

पढ़ने योग्य

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now