Remdesivir, oxygen यानि कोरोना इलाज के सामान की दिल्ली में कालाबाजारी का पूरा सच, वीडियो देखें

0
144

नई दिल्ली. इंडिया विस्तार। रेमेडिसिविर(Remedisivir), ऑक्सीजन (Oxygen) यानि कोरोना इलाज के सामानों की कालाबाजारी दिल्ली में पांव तो पसार रही है मगर उसी संख्या में ये गुनाहगार जेल भी पहुंच रहे हैं।दिल्ली में सोमवार यानि 3 मई को पश्चिमी दिल्ली पुलिस के स्पेशल स्टाफ ने दो लोगों को गिरफ्तार कर 5 रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किए। स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर नरेन्द्र कुमार के नेतृत्व में एसआई मोहित प्रकाश, एएसआई ओम प्रकाश, हेडकांस्टेबल राजीव, राशिद खान, कांस्टेबल संदीप, नरेन्द्र, ललित यादव, मेहताब, मोहित और लोकेश कुमार की टीम ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया। डोमाथोटी औऱ दीपक नामक दो शख्स इंजेक्शन 30-40 हजार में बेच रहे थे। ये दोनो दिल्ली के महाराजा अग्रसेन अस्पताल के कर्मचारी थे और इंजेक्शन इन्होंने कोरोना के दौरान मौत के शिकार बने मरीजों के चुराए थे। इसी तरह उत्तरी दिल्ली पुलिस के वाहन चोरी निरोधक दस्ते के प्रभारी एसआई राजपाल के नेतृत्व में हेडकांस्टेबल मुनीश, संदीप, बालकृष्ण और कांस्टेबल दीपक की टीम ने अमित शर्मा नामक शख्स को गिरफ्तार कर उससे 9 रेमडेसिविर इंजेक्शन बरामद किए। वह प्रत्येक इंजेक्शन 50 हजार में बेच रहा था।

कोरोना महामारी को अवसर बनाकर लोगों की जेबों पर डाका डालने वाले दिन पर दिन बढ़ते जा रहे हैं। दिल्ली पुलिस के आंकड़े बताते हैं कि कोरोना महामारी में कालाबाजारियों ने काली कमाई का बड़ा नेटवर्क खड़ा करने की कोशिश की है।

दिल्ली में 13 अप्रैल से 1 मई तक कोरोना के 53 गुनाहगार गिरफ्तार किए गए हैं। 37 मामलो में गिरफ्तार इन गुनाहगारों से 352 रेमडेसिविर, 187 ऑक्सीजन सिलिंडर, 107 ऑक्सीजन कंसट्रेटर, 25 ऑक्सी फ्लो रेगुलेटर आदि बरामद किए गए। कोरोना के गुनाहगारों के खिलाफ सर्वाधिक कार्रवाई क्राइम ब्रांच ने की। 10 मामलो में 10 लोगों को गिरफ्तार किया।

देखें वीडियो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 + 9 =