बनारसी साड़ी के ठग ऐसे लगा रहे थे बनारस के बुनकरों कारोबारियों को चूना, देखें वीडियो

0
6

यह सत्य कथा बनारसी साड़ी के ठगों की है। बनारसी साड़ी के यह ठग वाराणसी के बुनकरों और साड़ी कारोबारियों से लाखों रुपये की ठगी कर रहे थे। बनारसी साड़ी के यह गैंग फर्जी नाम पत्ता के आधार पर मशहूर कंपनियों ते नाम से फर्म बनाते थे, इसके बाद बनारसी साड़ी के बुनकरों, कारोबारियों से साड़ी आदि की खरीद फरोख्त कर फर्जी चैक दे दिया करते थे।

बनारसी साड़ी के ठगों द्वारा अंजाम दी गई इस तरह की घटनाओं के प्रकाश में आने पर वाराणसी के पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश ने फ्रॉड की घटनाओ में अभियोग पंजीकृत कर उक्त गैंग की गिरफ्तारी करने हेतु निर्देशित किया था। उक्त क्रम में वाराणसी के थाना सिगरा की पुलिस टीम ने बनारसी साड़ी ठग गैंग के मुख्य आरोपी राजू कुमार गुप्ता व अंशु गुप्ता को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की इनके कब्जे से भारी मात्रा में फ़र्ज़ी पासबुक, चेकबुक, विभिन्न अधिकारियों एवं फर्मों की मोहरें व अन्य दस्तावेज बरामद हुए। अभियुक्तगणों ने पूछताछ में 50 से भी अधिक फ्रॉड की घटनाओं में लिप्त होने की बात स्वीकार की। इनके गैंग के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी हेतु टीमों का गठन किया गया है।

बनारसी साड़ी के ठगों में राजू कुमार गुप्ता के कब्जे से एक अदद सैमसंग मोबाइल एनड्राइड, विवो 01 अदद एनड्राइड, सैमसंग 01 अदद कीपैड तथा अंशू उर्फ लालू के कब्जे से एक अदद मोबाइल रेडमी एन्ड्राइड बरामद हुआ । तथा दुकान की तलाशी ली गयी तो कारपोरेट बैंक के 09 चेंक विभिन्न नाम से जारी आन्ध्रा बैंक से 31 चेक विभिन्न नाम से जारी, देना बैंक के 07 चेक भिन्न-भिन्न नाम से जारी , सिडिकेट बैंक का नौ चेक, बंधन बैंक का एक कटा चेक, व एक चेकबुक जिस पर विशाल का हस्ताक्षर है, पंजाब नैशनल बैंक का एक चेकबुक जिस पर जग्दम्बा हैंडलूम लिखा है सादे पेपर पर भिन्न भिन्न प्रकार की मोहरे लगी हुयी तथा प्लास्टिक की 49 अदद भिन्न भिन्न नाम से मुहर आधार कार्ड व आधार कार्ड की छाया प्रति भिन्न भिन्न नाम से जिस पर सुबेदार प्रसाद, सुरेश पाण्डेय, आनन्द पाण्डेय, सौरभ तिवारी, अनिल कुमार आदि नाम छपे हैं।  श्रम विभाग उ0प्र0 द्वारा जारी मेसर्स फैब्रिक मेसर्स एसएस सिल्क नाम से जारी लाइसेंस नगर निगम वाराणसी द्वारा जारी प्रपत्र संख्या 122 की अनुज्ञप्ति रजिस्ट्रेशन की छाया प्रति नं0 09सीEEPP1390C1ZL भिन्न भिन्न नाम से जारी कटे हुए बिल जैसे होण्डा हैण्डलूम बाला जी साडी एण्ड बाला जी टेक्साटाइल सिद्रा हैण्डलूम , एसआर बंधानी, अंश ट्रेडर्स , मधूलिका साडी एण्ड एमपी साडी पूजा सिल्क एम्पोरियम आदि नाम से जारी  हुए ये भी बरामद किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eight + 13 =