फर्जी डिलवरी ब्वॉय से रहिए सावधान कहीं चपत ना लग जाए आपको

0
767

आप ऑन लाइन कोई सामान खरीदते हैं औऱ फिर पसंद ना आने पर उसे वापस भी करते हैं मगर क्या आप जानते है कि आपके सामान खरीदने औऱ वापस करने की बीच की कड़ी यानि डिलवरी ब्वॉय फर्जी भी हो सकता है। नहीं ना तो दिल्ली के द्वारका की यह कहानी सुनिए। द्वारका पुलिस के हाथ ऐसा ही एक फर्जी डिलवरी ब्वॉय आया है जो सामान लौटाने वाले ग्राहकों से सामान लेकर करोलबाग के गफ्फार मार्केट में बेच दिया करता था। इस गोरखधंधे में उसके साथ स्टोर कीपर भी शामिल था।

ये है मामला 

21 जुलाई 2018 को  द्वारका पुलिस को अमॉजॉन के प्रतिनिधि अंबिका सर्राफ ने शिकायत की कि एक फर्जी डिलवरी ब्वाय ने इनके ग्राहक गगनप्रीत सिंह से द्वारका सेक्टर-6 के उनकी दुकान संख्या 4 से कैमरा लिया औऱ लापता है।

द्वारका थाने के एसएचओ की देखरेख में एसआई सोहनवीर सिंह, नारंग राम, एएसआई राकेश, हवलदार समय सिंह, सिपाही प्रीतम की टीम ने मामले की जांच शुरू की। गगनप्रीत सिंह से मिले मोबाइल नंबर की जांच करते हुए पुलिस ने गौरव नाम के शख्स को गिरफ्तार किया। पूछताछ में पता चला कि गौरव पहले अमॉजॉन में डिलवरी ब्वाय का ही काम करता था। दिल्ली के लारेंस रोड पर कार्य़रत गौरव का स्टोर मैनेजर राजू सिंह उसका सुपरवाइजर था। नौकरी छुटने के बाद उसने राजू सिंह से संपर्क किया। इसके बाद से राजू सिंह ने ही उसे उन ग्राहकों का डिटेल्स देना शुरू किया जो लिया हुआ सामान वापस करते थे। गौरव असली डिलवरी ब्वाय से पहले पहुंच कर सामान उडा लेता था और उसे दिल्ली के गफ्फार मार्केट में बेच दिया करता था। पुलिस ने राजू सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया है। सामान बेचने से मिली रकम गौरव औऱ राजू आपस में बांट लिया करते थे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now