छात्रों के इस अभियान ने बनाया विश्व कीर्तिमान

0
722

हिमालय औऱ गंगा की स्वच्छता औऱ संरक्षण की जागरूकता के लिए सरकारी गैर सरकारी स्तर पर बहुत सारे अभियान चलते रहते हैं। लेकिन स्कूली बच्चों ने इस दिशा में एक ऐसा अभियान चलाया कि विश्व कीर्तिमान स्थापित हो गया। जी हां स्कूली बच्चों ने स्पर्श गंगा अभियान के अंतर्गत  हिमालय और गंगा की स्वच्छता एवं संरक्षण की जागरूकता के लिए एक विशेष तरह का अभियान चलाया| यह अभियान हस्ताक्षर का था औऱ 12 घंटे में 49500 हस्ताक्षर कराया गया।  हिमालय, गंगा के संरक्षण, संवर्धन के लिए स्कूली बच्चों द्वारा यह अनूठा प्रयास  28 अप्रैल 2018 को 12 घंटे में पूरा हुआ।  बच्चों के इस अनूठे अभियान को गोल्डन बुक आफ वल्र्ड रिकार्ड में विश्व कीर्तिमान के रूप में शामिल किया गया है। | इस उपलब्धि को केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने विशेष रूप से  सराहा और इस संदर्भ में डॉ रमेश पोखरियाल निशंक से आगे भी इस तरह के जागरूक कार्यक्रम करने के लिए चर्चा की |

ज्ञातव्य है की स्पर्श गंगा अभियान की शुरुआत हरिद़्वार के भाजपा सांसद औऱ उतराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक द्वारा 2009 में की गयी थी | तभी से यह अभियान निरंतर गंगा एवं सहायक नदियों की स्वच्छता, निर्मलता, अविरलता, पावनता को सुनिश्चित करते हुए विभिन्न प्रकार के प्रदूषण को कम करने के लिए कार्य कर रहा है । उलेखनीय है की स्पर्श गंगा अभियान देश का पहला ऐसा अभियान है जो स्कूली छात्र-छात्राओं, महिलाओं, युवाओं के माध्यम से भारत के कई राज्यों में लाखों लोगों तक पहुंच कर गंगा स्वच्छता संरक्षण की अलख जगाये रखता है | इस अभियान की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यह जागरूकता अभियान किन्ही विशेष दिवस, समय या अवसरों पर नहीं वरन समयानुसार व नियमित रूप से चलाया जा रहा है। अभियान से दूसरे  देशों को जोड़ने की मुहिम भी चलाई गई है जिसमे अफगानिस्तान,भूटान , नेपाल ,भारत ,म्यांमार, पाकिस्तान समेत सभी देशों को जोड़ा जाएगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three + two =