मां दुर्गा की आराधना शुक्रवार को इस प्रकार करें, साथ ही जानें खुश करने के उपाय

0
30
नवरात्रि

हिंदू-धर्म में सप्ताह का प्रत्येक दिन किसी न किसी देवी-देवता को समर्पित होता है। इन्हीं में से एक दिन होता है शुक्रवार के दिन को देवी मां लक्ष्मी के साथ ही मां दुर्गा का दिन भी माना जाता है। इस दिन भक्त देवी मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए पूरे मन से पूजा-अर्चना व उपवास करते हैं, ताकि मां दुर्गा की कृपा हमेशा बरकरार रहे। हिंदू मान्यताओं के मुताबिक अगर कोई सच्चे मन से मां दुर्गा की विधिवत पूजा करे तो उसकी मनोकामना अवश्य पूरी होती है। मां दुर्गा को ‘दुर्गतिनाशिनी’ भी कहा जाता है जो जीवन से दुर्गति का नाश करती हैं। मां दुर्गा की आराधना कैसे करें और उन्हें खुश करने के उपाय क्या हैं यह हम आपको बताने जा रहे हैं।

मां दुर्गा की पूजन सामग्री

शक्ति की देवी मां दुर्गा की आराधना के लिए पूजा की सामग्री में पंचमेवा, पंचमिठाई, गाय का घी,रूई, कलावा, रोली, सिंदूर, पानी वाला नारियल, अक्षत, लाल वस्त्र, फूल, 5 सुपारी, लौंग, पान के पत्ते 5, चौकी, कलश, आम का पल्लव, समिधा, कमल गट्टे, पंचामृत की थाली, कुशा, लाल चंदन, जौ, तिल, सोलह श्रृंगार का सामान, लाल फूलों की माला की आवश्यकता होती है।

ऐसे करें माँ दुर्गा की आराधना

इस दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नानादि कार्यों के बाद दुर्गा के आवाहन के लिए सबसे पहले उनके मंत्र का उच्चारण करना चाहिए।
“ऊँ ह्रीं दुं दुर्गायै नम:”। इस मंत्र का आप एक माला (108 बार) जाप कर सकते हैं।
शुक्रवार को इस मंत्र का जाप करने से लाभ मिलता है। ध्यान रहे, मां दुर्गा के मंत्रों का जाप यदि रात्रि में किया जाए तो अधिक फलदायी होता है।
मां दुर्गा को प्रसन्न करने के उपाय

माना जाता है कि किसी भी दुख को हरने के लिए मां दुर्गा के नाम का जाप ही काफी है। शास्त्रों के मुताबिक किसी भी लोक का हर पापी दुर्गा के नाम से डरता है। यदि जीवन में कोई परेशानी चल रही है तो आप मां दुर्गा के किसी भी मंत्र का जाप करें।

मां दुर्गा को जपापुष्ण का फूल बेहद पसंद होता है। इसलिए मां दुर्गा का जाप करते वक्त उन्हें जपापुष्प का फूल अर्पित करें। ऐसा करने से मां प्रसन्न होती है। साथ ही शुक्रवार के दिन मां दुर्गा के पूजा के समय आप पानी वाला नारियल, सुपारी, लौंग, इलायची , रोली, चावल, गुलाब( लाल रंग),देशी घी, अगरबत्ती आदि समाग्री का चढ़ावा कर सकते हैं।

शुक्रवार के दिन मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए चंडी पाठ या फिर दुर्गा सप्तशती पाठ करना बेहद महत्व बताया गया है। यह दोनों ही पाठ यदि कोई नियमानुसार पढ़ लें तो उस पर मां दुर्गा की अपार कृपा होती है।

मां दुर्गा संसार के सभी जीव-जंतु व प्राणी से प्यार करती हैं। इसलिए पूजा पाठ के अलावा आपको गरीबों को दान करना चाहिए। साथ ही भूखे-प्यासे जानवरों की मदद करने से भी मां दुर्गा प्रसन्न होती हैं।

disclaimer-विभिन्न स्रोतों से मिली जानकारी के आधार पर उपरोक्त आलेख की सच्चाई की पुष्टि indiavistar नहीं करता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nine + 5 =