क्राइम की दो खबरें- चोरी की पांच शतक लगाने वाले बदमाश, देह व्यापार में नप गए पुलिसवाले

0
185

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। क्राइम की जिन दो खबरों के बारे में आज हम बता रहे है उनमें से एक दिल्ली की तो दूसरी नोएडा की है। दिल्ली में जहां चोरी की पांच शतक लगाने वाले बदमाश पकड़े गए हैं वहीं नोएडा में एक ऐसे देह व्यापार का खुलासा हुआ जिसमें पुलिसवालों की भूमिका भी संदिग्ध है। कई पुलिसवालों पर इसके लिए गाज भी गिरी है।

चोरी की पांच शतक लगाने वाले बदमाश

नार्थ दिल्ली पुलिस की स्पेशल स्टाफ ने ठक-ठक गैंग के पांच शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इन पांच बदमाशों में गिरोह का किंगपिन भी शामिल है। इसके पास से पुलिस टीम ने 3 कंट्री मेड पिस्टल, आधा दर्जन कारतूस, 18 मोबाइल बरामद किया है। साथ ही पुलिस टीम ने वारदात में इस्तेमाल की गई गाड़ी भी जब्त की है।

इनमें से एक बदमाश पिछले साल पेरोल पर बाहर आया था। सरेंडर करने से पहले अपने गैंग के साथ मिलकर अच्छे पैसे कमाने के लिए वारदात को अंजाम दे रहा था। इनमे से एक युसूफ उर्फ चेतन को मार्च महीने में ही सरेंडर करना था।

डीसीपी नॉर्थ एन्टो अल्फोंस ने बताया की दिल्ली और एनसीआर में वारदात को अंजाम देने वाले गैंग का पता लगाने के लिए एसीपी ऑपरेशन जयपाल सिंह की देखरेख में इंस्पेक्टर सुनील कुमार की टीम को लगाया गया था। इस टीम में एसआई राकेश कुमार, एएसआई राजकुमार, हेडकांस्टेबल दीपक, आस मोहम्मद, अंसार खान, मंजीत, पुनीत, कांस्टेबल रविन्दर शामिल थे। हेड कांस्टेबल दीपक त्यागी को इस गैंग के बारे में सूचना मिली, थी कि मेरठ बेस्ड गैंग वारदात के लिए यमुना पुल के पास आने वाला है । उसी सूचना पर ट्रेप लगाकर टीम ने गैंग को पकड़ा।

जिसमे यूसुफ उर्फ चेतन, नसीर उर्फ कालिया, शकील और मेहताब शामिल हैं। तलासी में इनके पास से हथियार मिले। और डेढ़ दर्जन मोबाइल भी बरामद किया गया। पूछताछ में इन्होंने बताया की दिल्ली और एनसीआर के अलग अलग इलाकों में एक दो दर्जन नही बल्की 500 वारदात को अंजाम दे चुके हैं। गैंग का किंगपिन महफूज है। यही गैंग मेम्बर को हथियार उपलब्ध करवाता है। इसके लिए यह मेरठ के अमीर सैफी से हथियार खरीददारी करता है।

ये सभी कार में घूमते हैं और रास्ते मे टारगेट को तलाशते हैं। जिनके डेस्क बोर्ड पर मोबाइल, पर्स रहता है। उनके पास इनमे से एक गैंग मेम्बर जाकर गाड़ी ठीक करने की सलाह देकर गाड़ी का शीशा खुलवाता है। इतने में दूसरा मेम्बर दूसरी तरफ से मोबाइल, महंगे आर्टिकल चुरा लेता है। ये लोग लगातार गाड़ी से लोकेशन चेंज करते रहते हैं और वारदात को सीरीज में अंजाम देते हैं। यूसुफ पुराने 30 मामलों में शामिल है। मेहताब, शकील, नासिर भी पहले के वारदात में शामिल रहा है।

देह व्यापार का रैकेट

ग्रेटर नोएडा के दनकौर क्षेत्र के अंतर्गत चौकी मंडी श्यामनगर के ग्राम चीती के पास स्थित न्यू क्राउन प्लाजा होटल में देह व्यापार के बड़े रैकेट का पर्दाफाश हुआ। छापेमारी में  देह व्यापार में लिप्त 12 महिलाएं और 11 लड़के जिसमें मैनेजर भी सम्मिलित है ,पकड़े गए हैं। आपत्तिजनक वस्तुएं बरामद हुई हैं। इस मामले में कई पुलिसवालों पर कार्रवाई की गई है।

पूरी कहानी विस्तार से इस वीडियो में

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × 3 =