वाराणसी में पुलिसिंग सीपी सतीश गणेश ने दिए 10 सूत्र

0
0

दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में पुलिसिंग के कुछ नए मापदंड निर्धारित किए गए हैं। वाराणसी पुलिसिंग के ये नए दिशा निर्देश पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने अपराध की समीक्षा बैठक में निर्धारित किए। वाराणसी में पुलिसिंग के ये ताजा दिशा निर्देश कानून और व्यवस्था को कायम रखने के लिए अहम माने जा रहे हैं।

अपराध समीक्षा बैठक में दिए गए निर्देश-

 समस्त प्र.नि./थानाध्यक्षों को थाना पररसर में ही आवानसत होने हेतु निर्देशित किया गया।
 समस्त आईपीसी अपराधों में प्र0नि./थानाध्यक्ष को तत्काल घटना स्थल पर स्वंय जाकर
निरीक्षण करने हेतेु निर्देशित किया गया।
 पुलिस उपायुक्त काशी/वरूणा जोन को अपने अधीनस्थ सहायक पुलिस आयुक्त कार्यालयों का
निरीक्षण नियमित रूप से करने के लिए निर्देशित किया गया।
 थानो में बने महिला हेल्प डेस्क पर संवेदनशील महिला पुलिसकर्मियों को नियुक्त किये जाने
तथा महिला से संबंधित अपराध में तत्काल अभियोग पंजीकृत करते हुए आवश्यक कार्यावाही
सुनिश्चित किये जाने हेतु समस्त प्र0नि0/थानाध्यक्षों को निर्देशित किया गया।
 थाने पर आये फरियादी/पीड़ित की शिकायत पर तत्काल आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करायी
जाय तथा इसकी सूचना अपने सहायक पुलिस आयुक्त को तत्काल दी जाए। किसी भी रूप में
पीड़ित/फरियादी को अनावश्यक रूप से इधर-उधर न भेजा जाए।
 समस्त सहायक पुलिस आयुक्त , कमिश्नरेट वाराणसी को महत्वपणूा प्रकरणों में घटना स्थल पर
स्वंय पहुचं कर आवश्यक कार्रवाई हेतु निर्देशित किया गया।
 समस्त प्र0नन0/थानाध्यक्षों को निर्देशित किया गया कि रात्रि दिवस अधिकारी द्वारा रात्रि के समय
आने वाले फरियादी/पीड़ित की समस्याओं का निस्तारण प्रभावी व समयबद्ध रूप से किया जाना
सुनिश्चित करें।
 अवैध शराब के विरूद्ध अभियान चलाकर कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया गया।
 समस्त प्र0नि0/थानाध्यक्षों को दवा की कालाबाजारी को रोकने हेतु सम्बनधित विभाग से
संबध स्थापित करते हुए प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।
 अराजक/दबंग/गुंडा/माफिया आदि को  चिन्हित कर उनके विरूद्ध प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित
किये जाने के लिए कहा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here