द्रौपदी मुर्मू के बारे में जानिए सारी बातें यहां

द्रौपदी मुर्मू अध्यक्ष पद के लिए भाजपा उम्मीदवार होंगी। मूर्मू पहली आदिवासी महिला होंगी। जिन्हें प्रत्याशी बनाया गया है। अगर वह चुनाव जीतती हैं तो पहली आदिवासी और दूसरी महिला राष्ट्रपति होने का रिकार्ड बनाएंगी।

0
111
द्रोपदी मूर्मू

द्रौपदी मुर्मू केन्द्र की सत्ताधारी एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति चुनाव के लिए अपने उम्मीदवार गई है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि भाजपा संसदीय बोर्ड ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए 20 नामों पर चर्चा की, जिसके बाद पूर्वी भारत से आदिवासी महिला को चुनने का फैसला किया गया। द्रौपदी मुर्मू अध्यक्ष पद के लिए भाजपा उम्मीदवार होंगी। मूर्मू पहली आदिवासी महिला होंगी। जिन्हें प्रत्याशी बनाया गया है। अगर वह चुनाव जीतती हैं तो पहली आदिवासी और दूसरी महिला राष्ट्रपति होने का रिकार्ड बनाएंगी।

द्रौपदी मुर्मू के जीवन की बात करें तो ओडिशा में सिंचाई और बिजली विभाग में जूनियर सहायक होने से लेकर भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के रूप में नामित होने तक का सफर आदिवासी नेता मुर्मू के लिए एक लंबा और कठिन रहा है। एनडीए उम्मीदवार मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 को ओडिशा के मयूरभंज जिले में हुआ था। एक अत्यधिक पिछड़े और दूरदराज के जिले से आने वाले मुर्मू ने गरीबी और अन्य समस्याओं से जूझते हुए भुवनेश्वर के रामादेवी महिला कॉलेज से कला में स्नातक की उपाधि प्राप्त की और ओडिशा सरकार के सिंचाई और बिजली विभाग में एक जूनियर सहायक के रूप में अपना करियर शुरू किया।

पार्षद के रूप में शुरू किया था राजनीतिक जीवन

जानकारी के मुताबिक संथाल समुदाय से आने वाले मुर्मू ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत 1997 में रायरंगपुर नगर पंचायत में पार्षद के रूप में की थी। बाद में वह रायरंगपुर राष्ट्रीय सलाहकार परिषद की उपाध्यक्ष बनीं। 2013 में, वह पार्टी के एसटी मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य के पद पर पहुंच गईं। द्रौपदी मुर्मू ओडिशा में भारतीय जनता पार्टी और बीजू जनता दल गठबंधन सरकार के दौरान 2000-2002 तक वाणिज्य और परिवहन के लिए स्वतंत्र प्रभार के साथ 6 अगस्त, 2002 से मई तक मत्स्य पालन और पशु संसाधन विकास राज्य मंत्री थीं।

सर्वश्रेष्ठ विधायक के लिए नीलकंठ पुरस्कार से सम्मानित

मुर्मू को 2007 में ओडिशा विधानसभा द्वारा वर्ष के सर्वश्रेष्ठ विधायक के लिए नीलकंठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। रायरंगपुर से दो बार विधायक रहे मुर्मू ने 2009 में बीजद के राज्य चुनावों से कुछ हफ्ते पहले भाजपा से नाता तोड़ने के बाद भी अपनी विधानसभा सीट पर कब्जा किया था, जिसमें मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की पार्टी बीजद ने जीत हासिल की थी।

पति और बेटों को दिया था खो

मुर्मू की शादी श्याम चरण मुर्मू से हुई थी और दंपति के तीन बच्चे हैं – दो बेटे और एक बेटी। मुर्मू का जीवन व्यक्तिगत त्रासदियों से भरा रहा है क्योंकि उसने अपने पति और दोनों बेटों को खो दिया है। उनकी बेटी इतिश्री की शादी गणेश हेम्ब्रम से हुई है।

अगर जीतती हैं तो होंगी पहली आदिवासी राष्ट्रपति

वह वर्ष 2000 और 2004 में ओडिशा के रायरंगपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक थीं। वह 2015 में झारखंड के राज्यपाल के रूप में शपथ लेने वाली पहली महिला थीं। वह राज्यपाल नियुक्त होने वाली पहली महिला आदिवासी नेता रही हैं। निर्वाचित होने के बाद द्रौपदी मुर्मू भारत की पहली आदिवासी राष्ट्रपति और दूसरी महिला राष्ट्रपति होंगी। इसके अलावा वह ओडिशा की पहली राष्ट्रपति भी होंगी। उन्होंने लगभग दो दशक राजनीति और समाज सेवा में बिताए हैं।

जानिए किसके पास कितने वोट हैं?

वर्तमान में एनडीए के पक्ष में 440 सांसद हैं जबकि यूपीए के पास लगभग 180 सांसद हैं, इसके अलावा तृणमूल कांग्रेस के 36 सांसद हैं। टीएमसी आमतौर पर विपक्षी उम्मीदवार का समर्थन करती है। अनुमान के मुताबिक एनडीए के पास कुल 10,86,431 में से करीब 5,35,000 वोट हैं। इसमें सहयोगियों के साथ अपने सांसदों के समर्थन से 3,08,000 वोट शामिल हैं। राज्यों में, भाजपा के पास उत्तर प्रदेश से 56,784 वोट हैं, जहां उसके पास 273 विधायक हैं। उत्तर प्रदेश में प्रत्येक विधायक के पास सबसे अधिक 208 वोट हैं। राज्यों में, एनडीए को बिहार में अपना दूसरा सबसे बड़ा वोट शेयर मिलेगा, जहां 127 विधायकों के साथ, उसे 21,971 वोट मिलेंगे क्योंकि प्रत्येक विधायक के पास 173 वोट हैं। इसके बाद महाराष्ट्र में 18,375 वोट हैं, जहां उसके 105 विधायक और 175-175 वोट हैं। यूपीए के पास सांसदों के डेढ़ लाख से ज्यादा वोट हैं और इस संख्या के आसपास उसे विधायकों के वोट भी मिलेंगे। पिछले कुछ चुनावों में भी विपक्ष के उम्मीदवार को तीन लाख से कुछ ज्यादा वोट मिलते रहे हैं। इस बार हर सांसद के वोट की वैल्यू 700 होगी। पहले यह संख्या 708 थी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here