National Safety Day-राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस की हर बात जानिए कब और क्यों मनाया जाता है

देश में 4 मार्च के दिन राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस(National Safety Day) मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य है देश में रहने वाले लोगों को जागरूक करना भविष्य में होने वाली दुर्घटना के प्रति सजग बनाना है।

0
119
फाइल फोटो

National Safety Day-देश में 4 मार्च के दिन राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस(National Safety Day) मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य है देश में रहने वाले लोगों को जागरूक करना भविष्य में होने वाली दुर्घटना के प्रति सजग बनाना है। राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस 1 सप्ताह के लिए मनाया जाता है। एक सप्ताह के आयोजन में लोगों को ना सिर्फ दुश्मनों से बल्कि बीमारियों से सुरक्षित करने को लेकर भी जागरूक किया जाता है ।

National Safety Day in Hindi

राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस के तहत नारी सुरक्षा को लेकर भी जागरूकता फैलाई जाती हैं। National Safety Day India में हर साल 4 मार्च को मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य हमारे जीवन में जागरूकता लाना है। भविष्य में होने वाली दुर्घटना के प्रति सजग बनाना भी इस दिवस का मुख्य लक्ष्य है। नेशनल सेफ्टी डे को नेशनल सेफ्टी सप्ताह (National Safety Week) के रूप में मनाया जाने लगा है। इस सप्ताह के दौरान कई तरह के जागरुक करने वाले प्रोग्राम आयोजित किए जाते हैं। एक सप्ताह तक चलने वाले इस प्रोग्राम में विभिन्न सरकारी, गैर-सरकारी संस्थानों के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग और विभिन्न औद्योगिक संगठनों द्वारा मिलकर मनाया जाता है। इस कार्यक्रम को इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, पत्रिकाओं, समाचार पत्रों और अन्य माध्यमों से लोगों तक पहुंचाया जाता है। पूरे राष्ट्रीय सुरक्षा सप्ताह के दौरान राष्ट्रीय स्तर (National Level) और राज्य स्तर (State Level) पर विभिन्न गतिविधियों जैसे वाद-विवाद प्रतियोगिता, सेमिनार, सुरक्षा संदेशों के पोस्टर,स्लोगन, निबंध प्रतियोगिता, बैनर प्रदर्शनी,विभिन्न नाटक गीत तथा खेल प्रतियोगिता और अन्य तरीकों से लोगों को जागरुक किया जाता है।

यह महत्वपूर्ण दिवस हर साल 4 मार्च को पूरे भारत देश में मनाया जाता है। इस दिन को अस्तित्व में लाने की पहल नेशनल सेफ्टी काउंसिल (National Safety Council) के द्वारा की गई थी। 4 मार्च को ही इस काउंसिल की स्थापना हुई थी, इसलिए इस दिन को ही National Safety Day के रूप में मनाया जाता है। राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस  का अंतिम उद्देश्य सभी सुरक्षा दिशानिर्देशों का पालन करके कर्मचारियों और आम जनता को सुरक्षित रूप से काम करने के लिए प्रतिबद्ध करना है। राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (National Security Council) एक गैर-लाभकारी निकाय (non profit organization) है, जिसे स्वास्थ्य, सुरक्षा और विकास के किसी भी राष्ट्रीय स्तर के स्वैच्छिक संकेत को उत्पन्न करने, विकसित करने और बनाए रखने में सहायता के लिए स्थापित किया गया है। परिषद की ये कार्रवाइयाँ 1972 में छुट्टी की शुरुआत के बाद से ही सफल रही हैं – इसकी स्थापना के एक दशक से भी कम समय लगा है। National Security Council एक स्वशासी निकाय है, जो कि सार्वजनिक सेवा के लिए गैर सरकारी और गैर लाभकारी संगठन के रूप में कार्य करता है। इस संगठन की स्थापना साल 1966 में मुंबई सोसायटी अधिनियम (Mumbai Society Act) के तहत हुई थी, जिसमें आठ हजार सदस्य शामिल थे। इसके बाद साल 1972 में इस संगठन द्वारा National Safety Day मनाने का फैसला किया। यह दिवस उन सभी बलिदानियों को समर्पित है, जिन्होंने अपना बलिदान देकर इस देश की सेवा की। इस दिन हिंदुस्तान उनके हौसले और जज्बे को सलाम करता है। इस दिन हम शहीदों को नमन करते हैं। अपने कामों से ये आवाम के दिलों में बस जाते हैं। इस साल हम राष्ट्रीय स्तर पर 52 वां राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस मनाएंगे। इस दौरान देश में मौजूद Government और गैर-सरकारी (Non-Government ) संगठनों द्वारा कई आयोजन किए जाते हैं। 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now