हरियाणा गीता जयंती पर होगा बहुत कुछ खास

0
15

हरियाणा गीता जयंती महोत्सव पर इस बार बहुत कुछ खास होने वाला है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ने 2014 में कुरुक्षेत्र में कहा था , कुरुक्षेत्र को गीता स्थली के रूप में विकसित किया जाएगा। 2021 से पहले ही 350000 लोग सोशल मीडिया के जरिए अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव से जुड़ चुके हैं। 21 नवंबर से ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है जिसमें अब तक 55000 से ज्यादा लोग पंजीकरण कराने चुके हैं यह प्रतियोगिता 8 दिसम्बर 2021तक चलेगी।

2 से 19 दिसंबर तक शिल्प एवं सरस मेला चलेगा । 9 दिसंबर को ब्रह्मसरोवर पर गीता यज्ञ एवं पूजन के साथ इस महोत्सव का विधिवत शुभारंभ होगा। 9 से 14 दिसंबर तक भव्य गीता महाआरती का आयोजन किया जाएगा। 12 दिसंबर को पुरुषोत्तमपुरा बाग में संत सम्मेलन का आयोजन होगा। सभी जिलों में 12-14 दिसंबर तक गीता जयंती आयोजित की जाएंगी।13 दिसंबर को हरियाणा के अनेक महाविद्यालयों में गीता संसद का आयोजन होगा। आजादी के अमृत महोत्सव पर गीता जयंती के दिन कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में 75 स्वतंत्रता सेनानियों और उनके परिजनों को सम्मानित किया जाएगा।

गीता जयंती के दिन 14 दिसंबर को ब्रह्मसरोवर पर 1100 विद्यार्थियों द्वारा वैश्विक गीता पाठ किया जाएगा , जिसमें 55000व विद्यार्थी और देश-विदेश से लाखों गीता प्रेमी ऑनलाइन जुड़ेंगे

इस बार महोत्सव में 75 अंतराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त चित्रकार कैनवस चित्रों का निर्माण करेंगे । इसके साथ साथ महाभारत एवं गीता विषय पर 21 प्रस्तर मूर्तियों का निर्माण किया जाएगा। 48 कोस कुरुक्षेत्र भूमि के 30 तीर्थो को कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड की चयन सूची में शामिल किया जा रहा है जिससे इन तीर्थों की संख्या 164 हो जाएगी। कुरुक्षेत्र के 75 तीर्थों पर 15 अगस्त 2023 तक विकास कार्य कराए जाएंगे। गीता जन्मस्थली ज्योतिसर में 1363 लाख की लागत से निर्मित भगवान श्री कृष्ण के विराट स्वरूप 40 फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण होगा। स्वदेश दर्शन योजना के तहत कुरुक्षेत्र को कृष्णा सर्किट में शामिल किया गया है। कुछ ट्रेन मथुरा और हरिद्वार से कुरुक्षेत्र को जोड़ने के लिए चलाई जाएंगी। कुरुक्षेत्र नगर के प्रमुख मार्गों पर स्वागत द्वार बनाए जाएंगे। इस गीता जयंती के कार्यक्रम में लोकसभा स्पीकर समेत केन्द्रीय मंत्रियों के कार्यक्रम मिल चुके हैं।1 दिन इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी जी आनलाइन जुड़ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 − seven =