फर्जी पत्रकार काम अवैध शराब की तस्करी, पुलिस ने रोका तो क्या हुआ जानिए

0
140

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। लॉकडाउन में दवाईयां के साथ साथ शराब की कालाबाजारी करने वाले भी काफी सक्रिय हो गए हैं। दिल्ली की कोटला मुबारकपुर पुलिस ने पत्रकारिता की आड़ में शराब का काला कारोबार करने वाले चार लोगों को धर दबोचा। पुलिस ने इन्हें रोका तो ये पुलिस से ही झगड़ पड़े।

साउथ दिल्ली डीसीपी अतुल ठाकुर के मुताबिक पूरा मामला इस प्रकार है। कोटला मुबारक पुर थाने में तैनात हेडकांस्टेबल सतेन्द्र, कांस्टेबल विपुल औऱ कुलदीप 18-19 मई की रात पेट्रोलिंग पर थे। उसी समय हेडकांस्टेबल सत्येन्द्र को सूचना मिली की चार लोग लॉकडाउन का लाभ उठाकर शराब की कालाबाजारी कर रहे हैं। सूचना ये भी थी कि यह लोग अवैध शऱाब की खेप सप्लाई करने के लिए फार्च्यूनर और स्कूटी का इस्तेमाल करते हैं। पुलिस को ये भी सूचना मिली थी कि अवैध शराब की तस्करी करने वाला यह गैंग शराब की खेप लेकर एम्स के गेट नंबर दो के पास आने वाला है। तत्काल इस सूचना से कोटला मुबारक पुर थानाध्यक्ष विनय त्यागी को अवगत कराया गया। पुलिस टीम ने उपरोक्त स्थान पर जाल बिछा दिया। संदिग्ध हालत में फार्च्यूनर कार और 3 स्कूटी सवारों को रोका गया। तलाशी में उनके पास से 42 बोतल बीयर, 4 बोतल रॉयल स्टैग, 4 बोतल मैजक मोमेंट, 6 क्वार्टर रॉयल स्टैग, 2 क्वार्टर डबल ब्लू और 3 क्वार्टर मैक डॉवेल व्हीस्की बरामद किया गया। पुलिस द्वारा रोके जाने पर पहले इन्होंने पत्रकारिता का रोब भी दिखाया। इनमें से एक के पास फर्जी मीडिया आई कार्ड भी बरामद हुआ। पकड़े गए लोगों की पहचान अमित मलिक, राम आशीष, पवन कौशिक औऱ मोहित बोसैया के रूप में हुई। पवन के पास से फर्जी मीडिया आई कार्ड बरामद हुआ।

video

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

7 + three =