सीबीआई में फिर होगी लालू से पूछताछ !

0
841

राजद सुप्रीमो लालू यादव सीबीआई में 8 घंटे की पूछताछ में बेशक सवालों के जवाब नामालूम या गैरकानूनी नहीं था कह के देते रहे हों। मगर सीबीआई सूत्रों की मानें तो उनकी मुसीबत अभी खत्म नहीं होने वाली है। आईआरटीसी घोटाले में सीबीआई अब तेजस्वी से पूछताछ करेगी औऱ उसके बाद लालू प्रसाद यादव को दोबारा पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है। सीबीआई लालू से इस सवाल का जवाब चाहती है कि आख़िरकार ठेका आवंटन के तुरंत बाद पटना स्थित दो एकड़ ज़मीन जो की डिलाइट मार्केटिंग’ नाम की कम्पनी का था वो कैसे ‘लारा प्रोजेक्ट्स’ को ट्रान्स्फ़र हो गया। यह समझा जाता है की लारा प्राजेक्ट्स नाम की कम्पनी का सीधा सम्बन्ध लालू के परिवार से है।

राजद के मुखिया के उत्तरों से ‘असंतुष्ट’ सीबीआई अधिकारी अब  लालू को दोबारा पूछ-ताछ के लिए बुलाने का मन बना रहे हैं। सीबीआई के एक आला अधिकारी के मुताबिक “तेजस्वी यादव से पूछ-ताछ के बाद, लालू को दुबारा बुलाया जाएगा”।
पूछताछ के बाद बाहर निकलने पर लालू ने कहा, ‘‘सीबीआई अधिकारी सौहार्द्रपूर्ण थे लेकिन वे क्या कर सकते हैं? वे भारत सरकार के आदेशों का पालन कर रहे हैं जो कि मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ राजनीतिक प्रतिशोध की कार्रवाई कर रही है. मुझे सीबीआई से कोई शिकायत नहीं है लेकिन केन्द्र सरकार मुझे और मेरे परिवार को निशाना बना रही है।

आरोप है कि लालू ने 2006 में रेल मंत्री रहते हुए रेलवे के दो होटलों- बीएनआर रांची और बीएनआर पुरी की देखरेख का जिम्मा एक निजी फर्म सुजाता होटल को सौंपा और बदले में एक बेनामी कंपनी के जरिए तीन एकड़ की महंगी जमीन के रूप में रिश्वत ली. सुजाता होटल का स्वामित्व विनय और विजय कोचर के पास है। आरोप यह भी है कि सुजाता होटल्स ने इन होटलों के टेंडर के बदले प्रेमचंद गुप्ता की कंपनी डिलाइट  मार्केटिंग को दो एकड़ जमीन दी और बाद में ये कंपनी लालू परिवार से सम्बंधित कम्पनि लारॉ प्राजेक्ट्स को ट्रांस्फर हो गई।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here