एनसीआर योजना बोर्ड से नोएडा-ग्रेटर नोएडा मैट्रो को 406 करोड़ रूपए का फंड जारी

0
759

राष्‍ट्रीय रा%e0%a4%a8%e0%a5%8b%e0%a4%8f%e0%a4%a1%e0%a4%be-%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%9f%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%8b

राजधानी क्षेत्र योजना बोर्ड (एनसीआरपीबी) ने नोएडा-ग्रेटर नोएडा मैट्रो परियोजना को प्रथम ऋण किस्‍त के रूप में 406 करोड़ रूपए की निधि जारी की है ताकि इस महत्‍वपूर्ण मैट्रो परियोजना के निष्‍पादन में तेजी लाई जा सके।

इससे पूर्व एनसीआरपीबी ने 29.70 किमी नोएडा-ग्रेटर नोएडा मैट्रो परियोजना के लिए नोएडा मैट्रो रेल कॉरपोरेशन (एनएमआरसी) को 1,587 करोड़ रूपए के ऋण की भी मंजूरी दी। इस परियोजना की अनुमानित लागत 5,533 करोड़ रूपए है। इस 20 वर्षीय ऋण में 7 प्रतिशत की वार्षिक ब्‍याज दर और किस्‍तों के समय से पुनर्भुगतान के लिए 0.25 प्रतिशत के प्रोत्‍साहन के साथ ऋण के पुनर्भुगतान के लिए एक पांच वर्षीय अधिस्‍थगन भी शामिल है। इस खंड को पूर्ण करने की लक्षित तिथि अप्रैल, 2018 है।

ऋण की प्रथम किस्‍त के भुगतान की घोषणा करते हुए, एनसीआरपीबी के सदस्‍य –सचिव बी.के. के त्रिपाठी ने कहा कि नोएडा-ग्रेटर नोएडा मैट्रो संपर्क राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र में निर्बाध यात्रा के लिए महत्‍वपूर्ण हैं, जिसके लिए बोर्ड प्रतिबद्ध है। उन्‍होंने कहा कि इस महत्‍वपूर्ण खंड पर और अधिक निधि को जारी करना इस खंड की भौतिक और वित्‍तीय प्रगति पर निर्भर करता है। एनसीआर क्षेत्रीय योजना 2021 में एनसीआर शहरों के बीच संपर्क को मजबूत बनाने की आवश्‍यकता पर जोर दिया गया है। मेट्रो सार्वजनिक परिवहन के रूप में एक सर्वाधिक कुशल, गतिमान, आसान और पर्यावरण अनुकूल साधन के रूप में उभर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven − six =