फिल्म का बोगस ट्रेलर दिखा इस तरह लुट लिया 47 लोगों का साढ़े तीन करोड़

फिल्म का बोगस ट्रेलर दिखाकर एक शख्स ने 47 लोगों को 3.5 करोड़ का चूना लगा दिया। इस शख्स ने बोगस ट्रेलर के सहारे लोगों को करोड़पति बनने के सपने दिखाए।

0
58

फिल्म का बोगस ट्रेलर दिखाकर एक शख्स ने 47 लोगों को 3.5 करोड़ का चूना लगा दिया। इस शख्स ने बोगस ट्रेलर के सहारे लोगों को करोड़पति बनने के सपने दिखाए। फिल्म इंडस्ट्री में पैसा कमाने का सपना संजोए लोग इस शख्स पर यकीन करते गए और वह लोगों को ठगता गया। दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा(EOW) ने इस शख्स को गिरफ्तार कर लिया है।

ऑफरhttps://amzn.to/3MfcTn2

आर्थिक अपराध शाखा के डीसीपी विक्रम पोरवाल के मुताबिक इस शख्स की पहचान प्रमोद नागर के रूप में हुई है। उसे नोएडा से गिरफ्तार किया गया है। डीसीपी विक्रम पोरवाल ने बताया कि 33 लोगों की शिकायत पर सरिता विहार (Sarita Vihar) थाने में केस दर्ज हुआ था। बाद में इस केस की जांच आर्थिक अपराध शाखा को दे दी गई। शिकायत में लोगो ने कहा था कि M/s Swag Productions Pvt. Ltd. नामक कंपनी ने लोगों से फिल्म इंडस्ट्री में पैसा निवेश करने पर अधिक कमाई का लालच देकर निवेश की अपील की। शुरूआत में कुछ लोगों को किश्तो में पैसे वापस भी मिले लेकिन बाद में पैसे मिलने बंद हो गए। जब लोगो ने कंपनी से संपर्क किया तो पता लगा कि कंपनी ने उन्हें बेवकूफ बनाने के लिए बोगस फिल्म ट्रेलर (Film Trailor) बनाया था और दिल्ली के सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम (siri fort) औऱ नेहरू स्टेडियम में फर्जी कार्यकर्म आयोजित करते थे। निवेशकों के पैसे से वो निजी मंहगे शौक पूरा करते थे। आरबीआई से कंपनी ऐसी योजनाओं के लिए पंजीकृत भी नहीं थी। अब तक ऐसे 47 लोग मिल चुके हैं जिनके साढे तीन करोड़ रुपये ठगे गए थे। प्रारंभिक जांच के बाद आर्थिक अपराध शाखा में केस दर्ज कर जांच शुरू की गई तो पता लगा कि M/s Swag Production Pvt. Limited नाम की कंपनी उदित ओबरॉय, सुभाष नागर, प्रमोद नागर जूनियर औऱ प्रमोद नागर सीनियर द्वारा शुरु की गई थी। दोनो प्रमोद निवेशको को झांसा देते थे।

एसीपी घनश्याम की देखरेख में इंस्पेक्टर जसवीर सिंह के नेतृत्व में एसआई राहुल, एएसआई अशोक की टीम ने जांच में पाया कि निवेशकों को 11 महीने में दुगुनी रकम मिलने का झांसा दिया गया था। जांच के बाद प्रमोद नागर जूनियर को गिरफ्तार किया गया है। उदीत, प्रमोद नागर सीनियर और सुभाष नागर को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। प्रमोद नागर जूनियर फरार चल रहा था।

पुलिस की अपील

पुलिस ने लोगो से स्मार्ट निवेशक बनने की सलाह दी है। पुलिस ने अपील किया है कि झूठे लोभ लालच में ना पड़ें।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now