गैंगस्टर पत्नी की कारस्तानी की सत्य कथा

0
152
गैंगस्टर पत्नी

    गैंगस्टर पत्नी का यह कारनामा दिल्ली पुलिस की फाइलो में दर्ज है। अदालतों की राजिस्टर में भी गैंगस्टर पत्नी की यह कहानी बंद है । नई बात यह है कि गैंगस्टर पत्नी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के हत्थे चढ़ गई है। वह जेल से बेल पर आने के बाद से फरार थी। उसका कारस्तानी सुनकर आप दांतो तले उंगली दबा लेंगे। पूरी कहानी जानने से पहले जानिए गैंगस्टर पत्नी गिरफ्तार कैसे हुई

गैंगस्टर पत्नी निधि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की गिरफ्त में

दिल्ली  पुलिस स्पेशल सेल के डीसीपी जसमीत सिंह के मुताबिक एसीपी अतर सिंह की देखरेख में इंस्पेक्टर शिव कुमार और कर्मवीर सिंह की टीम ने गाजियाबाद के गोविंदपुरम् स्थित एक कैफे से 27 साल की निधि उर्फ भारती को 19 मार्च की शाम को गिरफ्तार किया। दरअसल इंस्पेक्टर शिवकुमार को सूचना मिली थी कि निधि गोविंदपुरम में है। विशिष्ट सूचना के आधार पर पुलिसकर्मियों की एक टीम बनाई गई और पुलिस ने जाल बिछाकर उसे गिरफ्तार कर लिया।

गैंगस्टर पत्नी कौन है

पुलिस के मुताबिक निधि उर्फ भारती को 8 मई 2018 को भगोड़ा घोषित किया जा चुका है। उसे अगवा औऱ हत्या के एक मामले में भगोड़ा घोषित किया गया था। 16 नवंबर 2017 को बेल मिलने के बाद वह फरार हो गई थी। पुलिस के मुताबिक निधि कुख्यात गैंगस्टर राहुल जाट की पत्नी है। राहुल का संबंध अंकित गुर्जर गैंग से है।

गैंगस्टर पत्नी का कारनामा

पुलिस के मुताबिक मामला दिल्ली के जीटीबी एन्क्लेव थाने का है। निधि पर सागर उर्फ चुन्नू को अगवा करने के बाद उसकी हत्या कर देने का आरोप है। निधि और राहुल जाट सहित 9 लोगों ने 1 अप्रैल 2015 को सागर उर्फ चुन्नू को अगवा किया था। अगवा करने के बाद उसे अपनी कार में बांधकर बागपत की तरफ ले जाया गया। आरोप है कि उसके बाद सागर की जमकर पिटाई की गई औऱ उसे चलती ट्रक के सामने फेंक दिया गया ताकि मामला सड़क दुर्घटना का लगे। सागर की मौत के मामले में बागपत में सड़क दुर्घटना का मामला भी दर्ज हो गया लेकिन सागर के पिता ने जीटीबी एंक्लेव थाने में अगवा का मामला दर्ज करवाया। दूसरी तरफ निधि ने भी अपनी बहन आरती के अगवा होने का मामला दर्ज करवाया था। दिल्ली पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो पता लगा कि सागर और निधि की बहन में प्रेम संबंध था। साल 2014 में निधि की बहन आरती की शादी होने के बाद भी सागर उससे मिलता रहता था। निधि और उसके पति राहुल जाट को इस पर आपत्ति थी। उन्होंने कई बार सागर को मना भी किया लेकिन सागर नहीं माना। इसीलिए उसके हत्या की साजिश रची गई। उन लोगों ने जबरदस्ती सागर को अगवा किया और  बागपत ले गए थे। निधि का पति राहुल भी इस मामले में जमानत पर बाहर है। वह रोहित चौधरी और अंकित गुर्जर का साथी है। हत्या, हत्या की चेष्टा, आर्म एक्ट आदि के तीन मामलों में उसकि लिप्तता की बात सामने आई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 + 2 =