क्या है देश के युवाओं की प्रतिक्रिया , चीनी एप्प के प्रतिबंध पर।

0
472
chiinese app ban

नई दिल्ली,इंडिया विस्तार। देश में चीनी ऐप सबसे ज्यादा इंडिया के युवा इस्तमाल  करते थे। इंडिया विस्तार ने चीनी एप्प के प्रतिबंध पर देश के युवाओं से प्रतिक्रिया ली। इनमे से ज़्यादातर सरकार के कदम से ख़ुश थे । आईए जानते है इन सबकी राय।

दीपक कुमार

दीपक का कहना है” गवर्मेंट  जो भी  फैसले लेगी सही होंगे। बहुत ज्यादा तो नहीं  पर कुछ  कंट्रोवर्शियल  इशू  हो रहे थे टिकटोक को लेकर ,व्यूज  लिए कुछ भी करना ठीक नहीं। हालांकि कुछ अच्छे थे जिनमें सच में कमाल का टैलेंट था जिन्हें अपने टैलेंट की  वजह से पहचान मिली थी, उनके लिए बुरा लग रहा है। लेकिन ऐसे बहुत से प्लेटफार्म है जहां वह अपने आप को दिखा सकते हैं । हर जगह पर टैलेंट की कदर है। इसलिए  जो भी है ठीक है। मैं तो हमारी  गवर्मेंट को सपोर्ट करता हूं उनके लिए यह फैसला सही है तो मेरे लिए भी सही है।  जिस तरह के हालात हैं इंडिया में हमारा भी फर्ज बनता है कि हम भी पूरी तरह से गवर्नमेंट को अपना योगदान दें चाहे वह  कोई भी फैसला लें।”

कमल

कमल कहते हैं “ मोदी जी ने बहुत अच्छा डिसीजन लिया है इन ऐप को बंद करवा कर क्योंकि  इन चाइनीस ऐप से चाइना को बहुत प्रॉफिट हो रहा था। मेरे को हिंदुस्तान की जनता से एक ही वर्ड बोलना है कि प्लीज डोंट यूज चाइनीस आइटमस ।इससे हमें ही खतरा है ।सब लोग अब  नहीं एक होंगे तो कब होंगे। क्योंकि हमें अब लड़ना होगा। सब से एक ही बात बोलूंगा अगर आप इंडिया में रहते हो इंडियन ऐप यूज करो।”

रविंद्र कहते है  “मैं यह सोचता हूं कि लोग फिर से खुद को देख पाएंगे और फिल्मी दुनिया से बाहर निकलेंगे। वह अपने और अपनी फैमिली के बारे में सोचेंगे और फिर टिकटोक स्टार की जगह रियल लाइफ स्टार बनेंगे।”

यु पी के कौस्तौभ का भी यह कहना है “कि सरकार ने जो भी फैसला लिया वह सही लिया है। चाइना हमारा डाटा चुरा  रहा था कुछ एप्स के जरिए ।सरकार ने उसे  रोक दिया है।”

सतीश सिंह

सतीश कहते हैं “मेरे हिसाब से परमानेंट रिमूव कर देना चाहिए । इकोनॉमिकली हमें ऐसे स्टेप उठाने ही चाहिए चाइना के खिलाफ । वो लोग गूगल तक यूज नहीं करते और हम उनके बहुत से एप्स यूज कर रहे हैं । यह हमारे लिए अच्छा होगा कि हम उनके द्वारा बनाये गए मोबाइल तक को खरीदना  बंद कर दें”

पंजाब के वीरेन का कहना है “भारत सरकार को यह कदम बहुत पहले उठाना चाहिए था पर देर आए दुरुस्त आए । उसके बाद चाइना से ओवरऑल रिलेशनशिप खत्म कर देनी चाहिए। थोड़े दिन महंगाई बढ़ेगी पर इंडिया खुद स्टैंड होने लगेगा । हम प्रोडक्टिविटी बढ़ा सकते हैं । कदम सही दिशा में हो तो मुश्किल आती है पर मंजिल मिल जाती है”

सैम

सैम भी कहते हैं “अभी सरकार ने जो चाइनीस एप बंद किए हैं ,वह अच्छा डिसीजन लिया है । हां थोड़ा सा टैलेंट को नुकसान हुआ है टिकटोक की वजे से , पर देश की  सिक्योरिटी को देखते हुए ये डिसीजन सही है ,मैं गवर्मेंट के इस फैसले से सहमत हू, चीन हमारे ही देश से पैसा कमाकर हमसे ही लड़ने की सोचता है ”


तरुण कुमार

तरुण का कहना है ऐसा नहीं है कि एप्स के सिक्योरिटी सेफ नहीं है ,बल्कि बहुत से इंडियन एप है जो प्राइवेसी  लीक करती हैं । मैंने तो लॉकडाउन स्टार्ट से ही ये ऍप अनइंस्टाल कर दी थी । इनमें से मैं सिर्फ कैमस्कैनर और शेयर इट यूज़ करता था । वह भी डिलीट कर दिया है अब। कोई भी एप सेफ नहीं है यह हमारी प्राइवेसी को दूसरी पार्टी को लीक  करती हैं । हम जो फोन यूज करते हैं ,वह भी चाइना कोई का ही तो है । हम कहां तक चाइना को इग्नोर कर पाएंगे लेकिन फिर भी चाइना को  इकनॉमिकल इस फैसले से  बहुत नुकसान हो जाएगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four − 1 =