IITF 2023-वोकल फॉर लोकल की थीम पर आधारित है खादी इंडिया का पैवेलियन, नए भारत की नयी खादी की झलक देखने उमड़ रहे लोग

IITF 2023-अंतराष्ट्रीय व्यापार मेले में खादी इंडिया का पैवेलियन खास आकर्षण बटोर रहा है। वोकल फॉर लोकल की थीम पर आधारित पैवेलियन में लोगों की भीड़ उमड़ रही है। उल्लेखनीय है कि खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) 14 से 27 नवंबर, 2023 तक नई दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित 42वें भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले (आईआईटीएफ)- 2023 में हिस्सा ले रहा है।

0
15
IITF 2023
IITF 2023

IITF 2023-अंतराष्ट्रीय व्यापार मेले में खादी इंडिया का पैवेलियन खास आकर्षण बटोर रहा है। वोकल फॉर लोकल की थीम पर आधारित पैवेलियन में लोगों की भीड़ उमड़ रही है। उल्लेखनीय है कि खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) 14 से 27 नवंबर, 2023 तक नई दिल्ली के प्रगति मैदान में आयोजित 42वें भारत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले (आईआईटीएफ)- 2023 में हिस्सा ले रहा है।

आयोग ने ‘वोकल फॉर लोकल’ थीम पर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में वैश्विक ब्रांड बन चुकी, ‘नये भारत की नयी खादी’ के उत्पादों की विस्तृत श्रृंखला हॉल नंबर-3 में प्रदर्शित की है। केंद्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (एमएसएमई) मंत्री, भारत सरकार, नारायण राणे ने खादी मंडप का उद्घाटन किया। इस अवसर पर केवीआईसी अध्यक्ष मनोज कुमार, एमएसएमई मंत्रालय के सचिव एस. सी. एल. दास और अन्य गणमान्य अधिकारियों की उपस्थिति में किया।

IITF 2023 आत्मनिर्भर भारत के अनुरूप तैयार है पैवेलियन

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने एक बयान में बताया कि खादी इंडिया पवेलियन माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन ‘आत्मनिर्भर भारत’ के अनुरूप तैयार किया गया है। खादी संस्थानों, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी) के तहत स्थापित इकाइयों और देश भर से स्फूर्ति क्लस्टर के तहत स्थापित इकाइयों के माध्यम से खादी कारीगरों की भागीदारी के लिए 214 स्टालों की स्थापना की है, जिसमें बेहतरीन दस्तकारी खादी और ग्रामोद्योग उत्पाद का प्रदर्शन किया गया है।

श्री राणे ने पवेलियन में स्थापित देशी चरखा, विद्युत चालित कुम्हारी चॉक, कच्ची घानी तेल निकालने की प्रक्रिया, मंदिर में पूजा के लिए उपयोग किए हुए पुष्पों को री-साइकल कर बनाई गई अगरबत्ती- धूपबत्ती बनाने के सजीव प्रदर्शन (Live Demonstration) का भी अवलोकन किया।

केवीआईसी अध्यक्ष मनोज कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में खादी सबसे विश्वसनीय ब्रांड बन चुका है, जिसकी झलक खादी इंडिया पवेलियन में प्रदर्शित उत्पादों में स्पष्ट दिख रही है। उनके दूरदर्शी नेतृत्व में “स्वदेशी” और “आत्मनिर्भरता” की दिशा में खादी ने नये प्रतिमान स्थापित किये हैं। उन्होंने बताया कि खादी इंडिया पवेलियन में लगे 214 स्टालों पर भारतवर्ष के अलग-अलग क्षेत्रों के कारीगरों द्वारा निर्मित उत्पादों द्वारा भारत की समृद्ध विरासत, शिल्प कौशल और हस्त कला को प्रदर्शित किया जा रहा है।

40% से अधिक स्टॉल ‘खादी’ निर्माण से जुड़ी संस्थाओं को आवंटित हैं, शेष स्टॉल में ग्रामोद्योग, पीएमईजीपी और स्फूर्ति की इकाइयों के उत्पादों को प्रदर्शित किया गया है। श्री कुमार ने आगे बताया कि खादी इंडिया पवेलियन का उद्देश्य देश के कुशल कारीगरों द्वारा निर्मित उत्पादों को प्रदर्शित करना और ही प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ‘वोकल फॉर लोकल’ और आत्मनिर्भर भारत की पहल को बढ़ावा देना है।

यह भी पढ़ें-

इस मंडप में देश के कारीगरों को अपनी कला की प्रस्तुति के लिए केंद्रीय मंच उपलब्ध कराया गया है। केवीआईसी अध्यक्ष श्री कुमार ने सभी से अपील की कि स्वदेशी उत्पाद खरीदें ताकि ग्रामीण क्षेत्र में केवीआईसी से जुड़े लाखों कारीगरों को आजीविका के अवसर मिलें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here