दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की नारकोटिक्स सेल ने गांजे की बड़ी खेप जब्त की

0
0
दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की नारकोटिक्स सेल ने उड़ीसा से तस्करी कर लाए गए 300 किलो गांजे की खेप जब्त की गई। यह खेप यूपी दिल्ली में सप्लाई के लिए लाया गया था।  नारकोटिक्स सेल ने इस सिलसिले में शाजेब चौधरी और सुशील नाम के दो तस्करों को गिरफ्तार किया है।

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच नारकोटिक्स सेल के हत्थे चढ़ा गांजा तस्कर

नारकोटिक्स सेल के डीसीपी चिन्मय विश्वाल के मुताबिक

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़ा गांजा तस्कर

ड्रग तस्करी पर लगाम कसने की लिहाज से एसीपी मयंक बंसल की देखरेख में इंस्पेक्टर जय भगवान, एसआई लेख राज, एएसआई ओम प्रकाश, हेड कांस्टेबल अशोक कुमार, मो. तलीम, रूपेश, कांस्टेबल तरूण, अनुज और रोहित की टीम गठित की गई थी। 15 नवंबर को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच नारकोटिक्स सेल के कांस्टेबल अनुज को सूचना मिली की गांजे की बड़ी खेप यूपी नंबर की टाटा 407 टेंपो में मजनू का टिला में वितरण के लिए पहुंचेगा। सूचना के आधार पर पुलिस ने वजीराबाद फ्लाईओवर के पास टेंपो को पकड़ लिया।

नारकोटिक्स सेल के डीसीपी चिन्मय विश्वाल के मुताबिक तलाशी में 300 ग्राम गांजे का खेप बरामद हुआ। यह खेप सब्जी औऱ फल सप्लाइ करने वाले प्लास्टिक में छिपा कर रखा गया था। पूछताछ में पता लगा कि शाजेब ने टेंपो किराए पर लिया था। शाजेब ने पुलिस को बताया कि गांजे की खेप अकरम नाम के शख्स की है जो टेंपो के पीछे ही आ रहा है। टेंपो में गांजे की खेप को उडीसा में लादा गया था। टेंपो के पीछे केवीड रिनाल्ट कार में आ रहे सुशील को भी दबोच लिया गया। इस सिलसिले में एक औऱ शख्स की तलाश की जा रही है। यह कार अकरम नाम के शख्स की यात्रा के नाम पर लिया गया था।

गौरतलब है कि 15 नवंबर तक दिल्ली पुलिस ने 8568.532 किग्रा गांजा जब्त किया है। पिछले साल यह मात्रा 5447 किग्रा थी।  नारकोटिक्स सेल ड्रग तस्करी पर विशेष नजर रखे हुए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here