नौकरी दिलाने का फर्जीवाड़ा करने वाला पुलिस के हत्थे चढ़ा

0
216

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। दिल्ली की फतेहपुर बेरी पुलिस ने नौकरी दिलाने का फर्जीवाड़ा करने के आरोप में एक को गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से फर्जी नियुक्ति पत्र, सरकारी स्टांप लगे फर्जी आईडी वगैरा बरामद किए गए हैं।

साउथ दिल्ली डीसीपी अतुल ठाकुर के मुताबिक एक सरकारी संगठन के सीनियर सुरक्षा अधिकारी ने तीन लोग उनके यहां फर्जी नियुक्ति पत्र लेकर पहुंचे हैं। पूछताछ में उन तीनो ने बताया कि उन्हें यह पत्र प्रिंस वर्मा नामक युवक ने दिए थे। उन्हें इसके फर्जी होने के बारे में जानकारी नहीं थी। इस मामले को सुलझाने के लिए एसीपी रणबीर सिंह की देखरेख में फतेहपुर बेरी थानाध्यक्ष कुलदीप सिंह, एसआई ऋषिकेश, सत्येन्द्र गुलिया, कांस्टेबल सीता राम, संदीप और जयवीर की टीम बनाई गई। पुलिस जांच में पता लगा कि 90 हजार रु लेकर उन्हें फर्जी नियुक्ति पत्र, ज्वानिंग लेटर औऱ फर्जी गेट पास दिए गए थे। तकनीकी जांच के बाद ग्रेटर नोए़डा वेस्ट में रहने वाले प्रिंस वर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया।

प्रिंस वर्मा ने अपनी बी टेक तक की पढ़ाई मेरठ के सुभारती यूनिवर्सिटी से की है। वह अपने गृह शहर बिहार के सासाराम से 2013 में दिल्ली आया। शुरूआत में उसने नोएडा के रेडिसन होटल में मैनेजर के पद पर भी काम किया। इसके अलावा सरकारी संगठन में भी एक दिन रहा। कोरोना काल में हुए आर्थिक संकट से उबरने के लिए उसने जालसाजी की साजिश रची थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − 10 =