दिल्ली में पकड़े गए बांग्लादेशी बदमाश नोएडा में लिफ्ट देकर लूटने वाले लुटेरे

0
154

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने देश के विभिन्न हिस्सो में घरो में सेंंधमारी और डकैती की वारदातों को अंजाम देने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है तो नोएडा पुलिस ने लिफ्ट देकर सवारिय़ों से लूटपाट करने वाले गैंग का भांडाफोड़ किया है।

दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की एसटीएफ यूनिट ने तीन बांग्लादेशी बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इन पर दिल्ली एनसीआर में सेंधमारी की दर्जनो वारदातों में शामिल होने का आरोप है। पकड़े गए बदमाशों की पहचान मो. खैरूल उर्फ अरमान, मो. मोंटू मुल्ला औऱ मो. सादिक शेख के रूप में हुई है। यह गैंग देश के विभिन्न हिस्सो में वारदात कर बांग्लादेश भाग जाया करता था बाद में फिर से आकर वारदातों को अंजाम दिया करता था।

क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी शिबेश सिंह के मुताबिक 27-28 फरवरी के तड़के गाजियाबाद के पॉश इलाके कविनगर में डकैती की वारदात हुई थी। बदमाशों ने पूरे परिवार को बंधक बनाकर लूटपाट की थी। इसी तरह की दूसरी वारदातों को ध्यान में रखते हुए दिल्ली क्राइम ब्रांच की एसटीएफ ने जांच शुरू की। वारदात को अंजाम देने के तरीके से बांग्लादेशी बदमाशों के गैंग पर संदेह हुआ। पुलिस को सूचना मिली की यह गैंग दिल्ली के लाडो सराय में भी वारदात करने की फिराक में है। इस सूचना के आधार पर डीसीपी भिष्म सिंह की देखरेख में एसीपी पंकज सिंह इंस्पेक्टर दिग्विजय सिंह और संजीव कुमार के नेतृत्व में एसआई राजीव बामल, अशोक कुमार, विजय कुमार, एएसआई बीर सिंह, विजय कुमार, कुलदीप सिंह, विजय, कांस्टेबल  अजीत, सोनू और पयार सिंह की टीम ने लाडो सराय में जाल बिछाकर बांग्लादेशी बदमाशों को गिरफ्तार किया। इनके कब्जे से ताला तोड़ने वाला सामान, चोरी के जेवरात आदि बरामद हुए।  पूछताछ में पता चला कि खैरूल गैंग लीडर है और 1997 से ही वारदातों को अंजाम दे रहा है। खैरूल और मोंटू अक्टूबर 2020 में पश्चिम बंगाल के सतखीरा बार्डर से भारत  में दाखिल हुए थे।  अब तक इनसे 18 वारदातों का पता चला है।

नोएडा में लिफ्ट देकर लूटने वाला गैंग

पुलिस कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर का सराहनीय कार्य

नोएडा के थाना एक्सप्रेस वे पुलिस ने लिफ्ट देकर हथियार की नोंक पर सवारियों के साथ लूटपाट करने वाले गैंग का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में हथियार और कार, नकदी आदि बरामद किए हैं। वीडियो में जानिए नोएडा के एडि. डीसीपी से पूरी कहानी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − two =