जिम ट्रैनर ने सौ लड़कियों को बना डाला अपना शिकार, देखें वीडियो

0
87

नई दिल्ली,इंडिया विस्तार। वह पेशे से जिम ट्रेनर है। एक सिरफिरा जिम ट्रेनर। एक ऐसा सिरफिरा जिम ट्रेनर जिसे लड़कियों को अश्लील मैसेज भेजने उनसे अश्लील चैट करने में मजा आता है। अंग्रेजी में इसे आप साइबर स्टाकर भी कह सकते हैं। यह वीडियो इसी सिऱफिरे जिम ट्रेनर की करतूत बताने के लिए बनाया गया है। उसने सौ से ज्यादा लड़कियों को अपना शिकार बना डाला है।

लड़कियों को जाल में फांसने के लिए इस जिम ट्रेनर ने फेसबुक पर कई सारे फर्जी फेसबुक आईडी बनाया हुआ है। फर्जी आईडी से वह अब तक सौ से ज्यादा लड़कियों को फेसबुक मेसेंजर के सहारे अश्लील मैसेज भेज चुका है। इन्हीं फर्जी आईडी में से एक शीतल ठाकुर के नाम से बनाया गया था जिसकी शिकायत पुलिस को मिली। साउथ वेस्ट दिल्ली पुलिस के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त अमित गोयल ने बताया कि शिकायत की जांच के लिए एसीपी अभिनेंद्र जैन की देखरेख में साइबर सेल इंचार्ज इंस्पेक्टर रमण कुमार सिंह के नेतृत्व में सागरपुर में तैनात इंस्पेक्टर हरीश चंद्रा, एसआई नीरज, एसआई राकेश, हेडकांस्टेबल विरेन्द्र और महिला कांस्टेबल पूजा की टीम बनाई गई। साइबर टीम की जांच में एक फोन नंबर का पता चला। फोन नंबर का सिम रियाजुद्दीन के नाम से राजिस्टर्ड था।सघन जांच में पता लगा कि फोन का लोकेशन शिकायतकर्ता महिला के घर के पास का है। पुलिस ने जांच पड़ताल के बाद दशरथपुरी निवासी विकास कुमार को गिरफ्तार कर लिया।
पूछताछ में विकास ने बताया कि वह लड़कियों के नाम पर तीन फर्जी फेसबुक प्रोफाइल बनाई हुई है। वह शीतल ठाकुर, पूजा कुमारी व शिवानी गुप्ता के नाम से है। इसमें करीब दो हजार लोग जुड़े हैं।

उसने बताया कि वह अब तक सौ से ज्यादा महिलाओं को मैसेज और अश्लील वीडियो भेज चुका है। यह काम वह पिछले डेढ़ साल से कर रहा है। पुलिस ने बताया कि विकास 12वीं पास है और द्वारका के एक जिम में ट्रेनर का काम करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × 5 =