गांजे की तस्करी के लिए एंबूलेंस का इस्तेमाल

0
456

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। डीआरआई की मुंबई शाखा ने एंबूलेंस में तस्करी की जा रही गांजे की बड़ी खेप पकड़ी है। यह खेप उड़ीसा से चल के मुंबई औऱ गोवा जा रही थी। बरामद 1004 किलो गांजे की कीमत 1.5 करोड़ बताई जा रही है।

एंबूलेंस की वजह से यह खेप छतीसगढ़ होते हुए मध्य प्रदेश के रीवा पहुंच गई थी और रास्ते में ना तो किसी ने इसे रोका औऱ ना ही जाम में फंसी बल्कि तस्करी की खेप ढो रही एंबूलेंस को किसी टोल पर भी पैसे नहीं लगे। डीआरआई सूत्रों का कहना है कि इसीलिए ड्रग के तस्कर नए नए तरीके ईजाद कर रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक डीआरआई मुंबई के इंदौर जोन और जबलपुर जीएसटी ने एक गुप्त सूचना के आधार पर एंबूलेंस को रोका था। तलाशी में 1004 किलो गांजा बरामद हुआ।

एंबूलेंस के साथ साथ दो लोगों को भी गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में पता चला कि गांजे की खेप उड़ीसा के नक्सल इलाके से ली गई थी और मुंबई औऱ गोवा भेजी जा रही था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 3 =