गाजर-मूली के फायदे जानकर दंग रह जाएंगे आप, रोज के खाने में करें शामिल

0
53
गाजर-मूली के फायदे

गाजर-मूली के फायदे कई हैं, इतने की आपको जानकर हैरानी होगी। गाजर-मूली के फायदे जानने के बाद आप इसे खाने में सम्मिलत करने से नहीं भूलेंगे। तो आईए पहले जानते हैं मूली के फायदे।

सलाद में मूली बहुत पसंद की जाती है तो इसके परांठे और सब्जी के कद्रदानों की भी कमी नहीं है। अगर आप मूली को देखकर मुंह बनाते हैं तो इसके फायदे जानना आपके लिये बेहद जरूरी है।

मू​ली के फायदे (Benefits of Radish)

यदि रोजाना मूली (Radish) खाएंगे तो आपकी इम्यूनिटी काफी मजबूत होगी और आप सर्दी-खांसी जैसी परेशानियां से भी बच सकेंगे।

मू​ली खाने से दिल से जुड़ी बिमारियों को भी खतरा कम होता है। क्योंकि मूली में एंथेसरनिन पाया जाता है जो कि दिल की बी​मारी के स्तर को कम करने में मदद करता है।
मूली खाने से पाचन तंत्र भी मजबूत होता और खाना अच्छे से डाइजेस्ट हो जाता है।
यदि आपके घर में कोई डायबिटीज का मरीज है तो उसके लिए मूल का सेवन काफी अच्छा है। मूली खाने से ब्लड शुगर की मात्रा काफी हद तक कम होती है। लेकिन हाई ब्लड शुगर वालों को मूली का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसे में एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
यदि आप शारीरिक रूप से थका हुआ महसूस कर रहे हैं तो मूली का रस पीएं। मूली के रस को गर्म कर उसके थोड़ा सा सेंधा नमक मिलाकर गरारे करना भी फायदेमंद है।
अगर आपके दांत पीले हो रहे हैं तो मूली के छोटे-छोटे टुकड़े कर उन पर नींबू का रस डालें और दांतों पर घिसे।
मूली का नियमित रूप से सेवन करने से किडनी और लिवर स्वस्थ रहते हैं। साथ ही इसे खाने से भूख भी बढ़ती है।
गाजर विटामिन ए, सी, के  से है भरपूर

गाजर एक ऐसी सब्जी है, जिसमें पौष्टिक तत्वों की कमी नहीं है। इसका उपयोग सब्जी के साथ, सलाद, जूस, अचार, केक, हलवा आदि बनाने में किया जाता है। गाजर विटामिन-ए, विटामिन-सी, विटामिन-के, पोटेशियम व आयरन जैसे कई जरूरी पोषक तत्वों से समृद्ध होती है।
आंखों के लिए गाजर के फायदे
बीटा-कैरोटीन एक ऑर्गेनिक पिगमेंट होता है, जो गाजर में समृद्ध मात्रा में पाया जाता है। उम्र के कारण होने वाली आंखों की समस्या से आराम दिलवाने में बीटा-कैरोटीन लाभदायक हो सकता है। वहीं, यह भी बताया जाता है कि अन्य खनिज जैसे विटामिन-सी बढ़ती उम्र के कारण मैक्यूलर डीजेनरेशन (नेत्र रोग, जो अंधापन का कारण बन सकता है) से आराम दिलाने में मददगार हो सकता है।

हृदय के लिए गाजर के गुण
गाजर का सेवन हृदय के मरीजों के लिए भी फायदेमंद हो सकती है। यह खून में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित कर हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकती है। यहां कच्चा और पका हुआ गाजर खाने के फायदे के साथ गाजर के जूस के फायदे भी देखे जा सकते हैं। दरअसल, गाजर शरीर में एंटीऑक्सीडेंट का प्रभाव बढ़ा सकता है और लिपिड पेरोक्सिडेशन को कम कर सकता है, जिससे हृदय संबंधी रोगों से सुरक्षा मिल सकती है

कैंसर से बचाव के लिए
अध्ययनों से पता चला है कि गाजर कैंसर के जोखिम को कुछ हद तक कम करने में मदद कर सकती है। दरअसल, गाजर पॉली-एसिटिलीन व फालकैरिनोल जैसे तत्वों से भरपूर होती है, जो एंटी कैंसर गुण प्रदर्शित कर सकते हैं। इस आधार पर कहा जा सकता है कि गाजर कैंसर कोशिकाओं को विकसित होने से रोक सकती है।

पाचन शक्ति बेहतर करे
गाजर फाइबर का अच्छा स्रोत है। फाइबर की मदद से मल त्यागने में मदद मिल सकती है। वहीं, गाजर पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने में मदद कर सकती है। इसकी मदद से भोजन अच्छी तरह पच सकता है। इसके लिए भोजन के साथ सलाद के रूप में गाजर का सेवन किया जा सकता है।

इम्यून सिस्टम को बनाए बेहतर
बीटा-कैरोटीन को इम्यून सिस्टम के लिए लाभकारी माना जाता है और यह हम लेख में ऊपर भी बता चुके हैं कि गाजर का जूस बीटा-कैरोटीन का अच्छा स्रोत होता है। इस कारण हर रोज एक गिलास गाजर का जूस पीने से इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाया जा सकता है।

गाजर-मूली के फायदे जानकर आप जरूर इसे अपने खाने में शामिल करेंगे।

disclaimer-उपरोक्त जानकारी विभिन्न माध्यमों से मिली जानकारी के आधार पर है। indiavistar.com उपरोक्त जानकारी की पुष्टि नहीं करता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five + 13 =