पत्नी क्यों बनी हत्यारिन-सत्य अपराध कथा

0
569

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। यह 15 फरवरी 2021 की बात है। सुबह के पौने आठ हो रहे थे। जब दिल्ली की फतेहपुर बेरी पुलिस को सफदरजंग अस्पताल से एक सूचना मिली। सूचना में बताया गया था कि ओम प्रकाश नाम के शख्स को उसकी पत्नी अस्पताल लेकर आई है औऱ वह मृत पाया गया है। सूचना पर एसआई नितिन कुमार को अन्य पुलिस स्टाफ के साथ भेजा गया।

पोस्टमार्टम के दौरान डाक्टरों ने ओम प्रकाश के गले पर निशान पाया था। इस सूचना के बाद फतेहपुर बेरी पुलिस स्टेशन के एसएचओ कुलदीप सिंह भी मौके पर पहुंचे और जांच में पाया गया कि ओम प्रकाश की हत्या हुई है। हत्या के मामले की जांच शुरू हो गई मगर पत्नी सुनीता और अन्य सबूतों से कोई सुराग नहीं मिला। अब पुलिस ने ओम प्रकाश की पत्नी सुनीता से कड़ी पूछताछ करनी शुरू की। पता चला कि वारदात वाले दिन कमरे में सिर्फ पति पत्नी थे। पूछताछ में सुनीता आखिर टूट गई। उसने पुलिस को बताया कि वह समस्तीपुर की रहने वाली है। उसका बेटा समस्तीपुर में अपनी नानी के साथ रहता है। ओम प्रकाश उसे हर महीने खर्च भेजा करता था। खर्च की राशि को लेकर वारदात वाली रात सुनीता ओम प्रकाश में झगड़ा हुआ। झगड़े के दौरान सुनीता ने अपनी चुन्नी से ओम प्रकाश का गला दबा कर उसकी हत्या कर दी।

 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now