Chinese एप्प के users ने तलाश लिए हैं नए ठिकाने

0
444
tiktok alternative
tiktok alternatives

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”Listen to Post”]

नई दिल्ली , इंडिया विस्तार। चीनी एप्प पर सरकार के प्रतिबंध को एप्प के यूजर भी स्वाकर करने लगे हैं। टिक टॉकर्स जैसे चीनी एप्प का इस्तेमाल करने वालों ने नए ठिकाने ढूंढ लिए हैं। टिक tok को इस्तेमाल करने वाले you tube को सबसे पहले पसंद करते हैं। टिक टॉक औऱ हेलो जैसे शार्ट वीडियो एप्प का इस्तेमाल करने वाले लोग तेजी से दूसरे एप्प पर शिफ्ट हो रहे हैं।


बैन किए गए एप्प में सबसे बड़ा नाम टिक टॉक का है। इसकी जगह रोपोसो जैसे एप्प की लोकप्रियता बढ़ रही है। यह इंडियन शार्ट वीडियो एप्प है। फिलहाल 65 मिलियन डाउनलोड के साथ शार्ट वीडियो एप्प में नंबर 1 बन गया है। टिक टॉक के बड़े बड़े नाम अब तेजी से दूसरे शार्ट वीडियो एप्प की तरफ मुड़ रहे हैं। आपको बता दें कि रोपोसो को दिल्ली आईआईटी के तीन इंजीनियरों ने शुरू किया था। यह इस समय एक दर्जन भाषाओं में है।

बताते हैं कि इसके 1.40 करोड़ वीडियो क्रिएटर हर महीने 8 करोड़ से ज्यादा वीडियो तैयार करते हैं।
टिक टॉक पर प्रतिबंध का लाभ हाल ही में आए चिंगारी वीडियो एप्प को भी हुआ है। इसके प्राइस और गेम जोन को लोग काफी पसंद कर रहे हैं। डिमांड के मामले में यह गूगल प्ले स्टोर पर ट्रेंड कर रहा है। इसी तरह शेयर इट की जगह फाइल्स गो ने ले ली है।


इसी तरह वी मेट पर प्रतिबंध का लाभ शेयर चैट को हुआ है। इसे डेढ़ करोड़ बार डाउनलोड किया जा चुका है। बैन किए गए एप्प में शीइन और क्लब फैक्टरी भी है। शीइन फैशन के लिए महिलाओं में काफी मशहूर था। फिलहाल इसकी जगह फ्लिपकार्ट या अमेजॉन से ही चलाना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 + 9 =