तैरता शहर की ये होंगी खूबियां, मालदीव में बनाया जाएगा यह शहर

दुनिया का पहला तैरता शहर मालदीव में बनेगा। दुनिया का पहला तैरता शहर बनाने की तैयारी पूरी हो चुकी है। पर्यटकों के सबसे पसंदीदा देश मालदीव में पहला तैरता शहर बनाने की तैयारी है।

0
13

दुनिया का पहला तैरता शहर मालदीव में बनेगा। दुनिया का पहला तैरता शहर बनाने की तैयारी पूरी हो चुकी है। पर्यटकों के सबसे पसंदीदा देश मालदीव में पहला तैरता शहर बनाने की तैयारी है।

कुछ दिनो पहले ही समुद्र में तैरता शहर बनाने के लिए मालदीव सरकार और डच डॉकलैंड्स कंपनी के बीच करार हुआ है। अब मालदीव सरकार ने इस शहर का ब्लू प्रिंट जारी किया है। जिसके मुताबिक तैरते शहर के पहले ब्लाक को अगस्त में तैयार कर दिया जाएगा। इस पर काम जोरों पर चल रहा है।

क्या है शहर प्रोजेक्ट

प्रोजेक्ट चीफ के मुताबिक तैरते हुए शहर को साल 2027 में पूरी तरह तैयार कर दिया जाएगा। मालदीव सरकार ने इस फ्लोटिंग सिटी को मदद औऱ मान्यता दे दी है। इस शहर में दूसरे देश के लोग भी घर खरीद सकेंगे। वे रहने की इजाजत भी ले सकते हैं। तैरते शहर के पास इंसानी कालोनियां नहीं होने की वजह से यहां प्रदूषण भी नहीं होगा।

शहर की तकनीक

पहला तैरता शहर जिस इलाके में बनाया जाएगा वह समुद्री इलाका करीब 500 एकड़ में फैला हुआ है। इस तैरते शहर में सभी सुविधाओं के साथ ही प्राकृतिक जीवनशैली का आनंद भी लिया जा सकेगा। यह शहर नीदरलैंड में बने फ्लोटिंग मकानों की तकनीक पर आधारित होगा। इसमें 5 हजार से ज्यादा मकान होंगे। इसके अलावा होटल, हर तरह की दुकानें, खेल के मैदान और रेस्टोरेंट भी बनाए जाएंगे।

यातायात

तैरता शहर में ट्रांसपोर्ट सिस्टम लोकल समुद्री व्यवस्था के आधार पर होगा। यातायात का सबसे प्रमुख साधन नाव होगी। यहां की सड़कें सफेद बालू से बनाई जाएंगी। साइकिल, इलेक्ट्रीक बग्घी या स्कूटर चलाने की इजाजत होगी।

शहर तक जाने की सुविधा

मालदीव की राजधानी माले से तैरते शहर तक जाने के लिए नाव से सफर करना होगा। इसमें 15 मिनट का समय लगेगा। यह शहर माले के एयरपोर्ट से भी नजदीक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven − five =