यूपी में खेल और खिलाड़ियों के लिए मिलने लगी यह सारी सुविधाएं

0
816

इंडिया विस्तार, लखनऊ

उत्तर प्रदेश में खेल औऱ खिलाडियों के लिए सरकारी स्तर पर कई सारी योजनाएं शुरू की गई हैं। सरकार ने खेल को बड़े शहर से छोटे शहर औऱ छोटे शहर से गांव और तहसील तक खेल को पहुंचाने के लिए कार्य योजना तैयार की है। यूपी के खेल मंत्री चेतन चौहान के मुताबिक मोदी के नारे खेलो इंडिया खेलो और सीएम योगी के खेल में रूचि ने यूपी को में खेल औऱ खिलाड़यों के लिए स्वस्थ माहौल बनाने का काम किया है।

हर जिले में स्टेडियम

उनके मुताबिक पहले के आधे अधूरे काम पूरा करा उनका पोजेशन लेने के साथ साथ उस पर काम शुरू कराया जा रहा है। हर जिले मेें एक स्टेडियम के फार्मूले पर चल रही सरकार के मुताबिक 75 में से 67 जिलों में स्टेडियम हैं 6 जिले ऐसे बचे हैं जहां पर स्टेडियम अभी नहीं हैं। खेलों के लिए 6 महीने की जगह 10 महीने का समय निर्धारित कर दिया गया है। यहां तक की खेल अधिकारियों को भी कोचिंग करने के लिए कहा गया है।

स्पोर्टस कालेज होस्टल में अब नया रूल 

यूपी में तीन स्पोर्टस कालेज और 45 होस्टल हैं इनमें होने वाले चयन पर सवाल ना उठे उसके लिए कई कदम उठाए गए हैं। एक ही दिन में चयन सेलेकर वेब पर परिणाम प्रकाशित करने आदि की व्यवस्था की गई है।

मेडल जीतने वालों को नकद राशि

यूपी में घोषणा की गई है कि ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने वाले को 6 करोड़, सिल्वर के लिए 4 करोड़ और ब्रोंज के लिए 2 करोड़ रूपया सरकार देगी। इसके अलावा खिलाडियों के लिए 11 विभागों में सरकारी नौकरी खोल दी गई हैं। अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी, मेडल विनर और अर्जुन पुरस्कार, द्रोण पुरस्कार विजेताओं को 20 हजार रूपये तक प्रतिमाह का पेंशन देने का फौसला भी लिया गया है। एशियाड में गोल्ड मेडल को 50,सिल्वर को 30 और ब्रोंज को 20 लाख रूपये दिया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 − 5 =