जिंदा नहर में फेंक हत्या करने की वजह प्रेमिका के परिजनों से दोस्ती

0
310

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। प्रेम संबंधों पर आपत्ति और पिटाई करने वाले लड़की के परिजनों को सबक सिखाने के लिए एक सिरफिरे आशिक ने 20 साल के युवक को जिंदा नहर में फेंक दिया। मामला दिल्ली के रोहिणी का है। पुलिस ने सिरफिरे आशिक और हत्या में साथ देने वाले उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है।

रोहिणी पुलिस उपायुक्त एसडी मिश्रा ने बताया कि 26 जनवरी को 20 साल के रोहण के लापता होने का मामला केएन काटजू मार्ग थाने में दर्ज की गई थी। बताया गया था कि कार और मोटरसाइकिल की एसेसरिज की दुकान चलाने वाला रोहण शाम को दुकान से निकला और तभी से लापता है। जांच के दौरान पुलिस को पता लगा कि समयपुर बादली के इलाके में 25 जनवरी की रात रोहण से मिलते जुलते शख्स की लाश हैदरपुर नहर में मिली थी। पोस्टमार्टम में डाक्टरों ने मौत की वजह डूबना बताया था। पुलिस ने फिर भी इस मामले की सघन जांच शुरू की। आसपास से सीसीटीवी खंगालने पर पुलिस को एक मोटरसाइकिल पर रोहण के साथ दो अन्य लोग दिखे। पुलिस अभी जांच कर ही रही थी कि रोहण के पिता ने भी उसकी मौत पर संदेह जताते हुए शिकायत दर्ज करा दी। सीसीटीवी के आधार पर पुलिस ने अंकित तुसीर और अंशू को गिरफ्तार किया। पूछताछ में पता चला कि अंकित का अपने गांव में रहने वाली वीनीता नाम की लड़की से प्रेम संबंध थे। वीनीता के परिजनों को इस बात पर आपत्ति थी। इस बात को लेकर विनीता के परिजनों ने अंकित की पिटाई भी की थी। रोहण का वीनीता के परिवार वालों से निकटता थी। इसीलिए अंकित ने रोहण को जान से मारने की साजिश रची। इस काम में उसने अपने दोस्त अंशू को भी शामिल कर लिया। 25 को मतभेद दूर करने के बहाने दोनों रोहण को मोटरसाइकिल पर नहर की तरफ ले गए औऱ उसे जिंदा नहर में फेंक दिया।    

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − 13 =