सांप का सपना क्या देता है संकेत जान लीजिए विस्तार से

सावन का महीना भगवान शंकर का होता है। भोलेनाथ को सांप और सावन का महीना दोनो प्रिय हैं। सांप का सपना वैसे तो शुभ होता ही है सावन के महीने में ऐसा सपना और शुभ माना जाता है।

0
65
सांप का सपना

sanp ka sapna-सावन का महीना भगवान शंकर का होता है। भोलेनाथ को सांप और सावन का महीना दोनो प्रिय हैं। सांप का सपना वैसे तो शुभ होता ही है सावन के महीने में ऐसा सपना और शुभ माना जाता है। नींद में लोग सांप से जुड़े विभिन्न तरह के सपने देखते हैं। स्वप्न शास्त्र के मुताबिक अलग-अलग तरह के सपने का अर्थ अलग होता है। आइए जानते हैं सांप से जुड़े सपनो के शुभ अशुभ फल संकेत।

क्यों आते हैं सांप के सपने

मान्यता है कि जिन लोगों की कुंडली में काल सर्प दोष होता है उन्हें सांप से जुड़े सपने अक्सर आते हैं। यह भी माना जाता है कि राहु-केतु की दशा चल रही हो तब भी सांप का सपना आता है यह भी मान्यता है। स्वप्न शास्त्र के मुातिबक सांप के सपने भविष्य में होने वाली घटनाओं का संकेत देते हैं।

सांप का सपना आए तो जान लें उसका अर्थ

अगर सांपों का झउंड आपके सपने में दिखा है तो ऐसा सपना अशुभ माना जाता है। माना जाता है कि ऐसा सपना जीवन में आने वाली परेशानियों के संकेत होते हैं। कई बार काले सांप के सपने भी देखे जाते हैं। सपने में अगर काला सांप देखते हैं तो इसका मतलब धन हानि से है। यह भी मान्यता है कि आप किसी बिमारी से ग्रस्त हो सकते हैं। अगर सपने में सांप को मारते हुए देखते हैं तो ऐसा सपना शुभ होता है। इसका अर्थ है आपको अपने शत्रु पर विजय प्राप्त होने वाली है। यदि सपने में सांप से खुद को काटा हुए देखते हैं तो यह भी सपना अशुभ संकेत वाली श्रेणी में आता है। इसका अर्थ है कि भविष्य में आप किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हो सकते हैं। सपने में मरा हुसा सांप दिखने का संबंध कुंडली में राहु दोष से होता है। इस तरह के सपने देखने के बाद आपको ज्योतिषिय सलाह लेनी चाहिए।

डिस्क्लेमर

”इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना में निहित सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्म ग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारी आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना के तहत ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।”

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now