ट्रक ड्राइवर करता था हथियारोंं की तस्करी, इस सिंडिकेट का था मेंबर

ट्रक ड़्राइवर हथियारों की तस्करी में लिप्त था। वह अवैध हथियारों के एक सिंडिकेट का सक्रिय सदस्य था। यह ट्रक ड्राइवर मध्य प्रदेश में हथियार तस्करों से हथियार लेकर दिल्ली और उत्तराखंड में सप्लाई कर रहा था।

0
195
ट्रक ड्राइवर

ट्रक ड्राइवर हथियारों की तस्करी में लिप्त था। वह अवैध हथियारों के एक सिंडिकेट का सक्रिय सदस्य था। यह ट्रक ड्राइवर मध्य प्रदेश में हथियार तस्करों से हथियार लेकर दिल्ली और उत्तराखंड में सप्लाई कर रहा था। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने इस ट्रक ड्राइवर और उसके साथियों को गिरफ्तार कर लिया है। इनकी निशानदेही पर 7 पिस्टल और 27 कारतूस बरामद किए गए हैं।

दिल्ली क्राइम ब्रांच के स्पेशल सीपी रविन्द्र यादव के मुताबिक डीसीपी अमित गोयल के नेतृत्व और एसीपी अनिल शर्मा की देखरेख में इंस्पेक्टर जय भगवान, एसआई नीरज, एएसआई यशपाल, अशोक, रूपेश, नीरज, हेडकांस्टेबल महिपाल और कांस्टेबल तरूण की टीम ने ट्रक ड्राइवर सहित हथियार तस्करी सिंडिकेट के चार लोगों को धर दबोचा है। सबसे पहले पुलिस टीम ने जहांगीर पुरी में जाल बिछाकर जनक सिंह नामक शख्स को गिरफ्तार किया। उसके पास से 4 सेमी आटोमेटिक पिस्टल औऱ 16 कारतूस बरामद किए गए। पेशे से ट्रक ड्राइवर जनक सिंह ने साल 2019 में अवैध हथियारों की सप्लाई शुरू की थी। वह मध्य प्रदेश के सप्लायर से हथियार लाकर दिल्ली और उत्तराखंड के हलद्वानी में बेचा करता था। उसे 2021 में हलद्वानी में भी गिरफ्तार किया गया था। पूछताछ में ट्रक ड्राइवर जनक सिंह ने बताया है कि पिछले तीन सालो में वह 60-70 पिस्टल सप्लाई कर चुका है। जनक सिंह से पूछताछ के बाद पुलिस ने उसकी निशानदेही पर मध्य प्रदेश के भिंड से लक्ष्मी नारायण उर्फ कालू बाबू नाम के शख्स को गिरफ्तार किया। जनक कालू से ही हथियार लिया करता था। कालू से पुलिस को दो और पिस्टल बरामद हुए। कालू से पूछताछ में पुलिस को पता चला कि अवैध हथियार वह भिंड के ही राजीव ओझा उर्फ टाटा नामक शख्स से लिया करता है। पुलिस ने राजीव को गिरफ्तार कर उससे 1 पिस्टल बरामद किया। वह अवैध हथियार बनाने का काम कर रहा था। पुलिस को उसके पास से हथियार बनाने वाले सामान भी बरामद हुए हैं। जनक सिंह ने पुलिस को बताया था कि दिल्ली एनसीआर मे अवैध पिस्टल की बिक्री राशिद नाम का शख्स करता है। पुलिस ने जाफराबाद से राशिद को भी गिरफ्तार कर लिया।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now