ड्रग तस्करी के अंतर्राष्ट्रीय रैकेट का पर्दाफाश, दिल्ली में मिली 40 करोड़ की हेरोइन

0
73
ड्रग तस्करी

ड्रग तस्करी के अंतर्राष्ट्रीय रैकेट का दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पर्दाफाश किया है। ड्रग तस्करी के दो कुख्यात बदमाश दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। इनके पास से 10 किलो हेरोइन बरामद किया गया है। ड्रग तस्करी की बरामद खेप में से 4 किलो एक कार में विशेष रूप से बनाए गए स्थान पर रखा गया था।  बरामद हेरोइन की अंतर्राष्ट्रीय बाजार में 40 करोड़ रु कीमत बताई जाती है।

वीडियो में देखें कैसे कार से बरामद हुई 40 करोड़ की हेरोइन

दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के डीसीपी जसमीत सिंह के मुताबिक ड्रग तस्करी के इस रैकेट का भांडाफोड़ एसीपी अत्तर सिंह की देखरेख में इंस्पेक्टर शिवकुमार और इंस्पेक्टर पवन कुमार सिंह ने किया है। गिरफ्तार दो लोगों की पहचान दिनेश सिंह और नाजिर उर्फ नाजिम के रूप में हुई है। इन्हें दिल्ली के सराय काले खां बस अड्डे के पास से दबोचा गया।

डीसीपी जसमीत सिंह के मुताबिक पुलिस टीम को मणीपुर, असम, बिहार, यूपी और दिल्ली में ड्रग तस्करी के अंतर्राष्ट्रीय गैंग के सक्रिय होने की सूचना मिली थी। इस सूचना पर पुलिस 4 महीने से काम कर रही थी। 24 मार्च को सूचना मिली की गैंग के दो सदस्य नाजिम औऱ दिनेश ने झारखंड से ड्रग की बड़ी खेप उठाई है और इस खेप को एक मारुति एसएक्स-4 कार में दिल्ली लेकर आ रहे हैं। इस सूचना के आधार पर विशेष पुलिस टीम ने जाल बिछाया और संदिग्ध कार कार में सवार दो लोगों के बैग की तलाशी ली गई। दोनो के बैग से 3-3 किलो हेरोइन बरामद हुई। कार की तलाशी में पिछली सीट के पीछे बनाई गई विशेष जगह पर रखा 4 किलो हेरोइन बरामद हुआ।

पूछताछ में पता लगा कि दोनो ड्रग तस्करी के अंतर्राष्ट्रीय रैकेट से जुड़े हैं। दोनो पिछले पांच साल से यूपी औऱ दिल्ली एनसीआर में ड्रग की सप्लाई कर रहे थे।  पूछताछ में पता लगा कि कि दोनों को जो ड्रग सप्लाई करता है उसके संबंध म्यामार औऱ मणीपुर के गैंग से है। ज्यादातर हेरोइन म्यामार से मणीपुर लाया जाता है। इसके बाद अरूणाचल और असम भेजा जाता है जहां से देश भर में सप्लाई होती है।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 − 3 =