डिजिटल मीडिया के लिए भारत और वियतनाम में हुआ यह समझौता

0
19
डिजिटल मीडिया फोटो-पीआीबी

डिडिटल मीडिया में साझेदारी के लिए भारत और वियतनाम में अहम समझौता हुआ है। सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने आज वियतनाम के सूचना एवं संचार मंत्री  गुयेन मान हंग के साथ एक प्रतिबद्धता-पत्र (एलओआई) पर हस्ताक्षर किये। इसके तहत दोनों देशों के बीच डिजिटल मीडिया के क्षेत्रों में सहयोग किया जायेगा तथा भारत और वियतनाम के बीच साझेदारी को मजबूत बनाने का मार्ग प्रशस्त होगा।

एलओआई में प्रावधान किया गया है कि डिजिटल मीडिया तथा सोशल नेटवर्क के सम्बंध में नियामक ढांचा तथा नीतियां तैयार करने में सूचना और अनुभवों को साझा किया जायेगा। इसके अलावा दोनों देशों के मीडिया प्रोफेशनलों के क्षमता निर्माण तथा प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाये जायेंगे।

भारत और वियतनाम के प्रगाढ़ सम्बंधों की झलक श्री ठाकुर के आवास पर दोनों मंत्रियों के बीच होने वाली चर्चा में नजर आई। अनुराग ठाकुर ने जोर देकर कहा कि माननीय राष्ट्रपति और भारत के माननीय प्रधानमंत्री की वियतनाम की हाल की यात्राओं से दोनों देशों के बीच सम्बंध और प्रगाढ़ हुये हैं। आज की बैठक से नई प्रौद्योगिकियों और“इंफोडेमिक” जैसी चुनौतियों वाले क्षेत्रों के मद्देनजर द्विपक्षीय सहयोग को आकार मिलेगा, जिनसे कोविड-19 के दौरान सभी देश जूझते रहे हैं। श्री ठाकुर ने वियतनाम के अपने समकक्ष को डिजिटल मीडिया नैतिक संहिता के बारे में भी बताया, जिसे सरकार फरवरी 2021 से क्रियान्वित कर रही है।

श्री हंग ने श्री ठाकुर को वियतनाम आने के लिये आमंत्रित किया और कहा दोनों देशों के पत्रकारों को एक-दूसरे के सामाजिक-आर्थिक विकासों के बारे में सूचनाओं तक पहुंच दी जाये, ताकि सफलता की कहानियों से लोग परिचित हों तथा लोगों के बीच आदान-प्रदान मजबूत बने।

बैठक में प्रसार भारती के सीईओ  शशि शेखर वेमपति, पत्र सूचना कार्यालय के प्रधान महानिदेशक  जयदीप भटनागर, सूचना और प्रसारण मंत्रालय के संयुक्त सचिव विक्रम सहाय तथा भारत और वियतनाम पक्ष से अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

इस वर्ष भारत और वियतनाम के बीच “समग्र रणनीतिक साझेदारी” के पांच वर्ष पूरे हो रहे हैं, तथा वर्ष 2022 में दोनों देशों के बीच राजनयिक सम्बंधों को पचास वर्ष हो जायेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve − 4 =