अवैध हथियारों के खिलाफ कार्रवाई-दिल्ली में 12 पिस्टल 45 कारतूस बरामद

अवैध हथियार तस्करी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। यह दोनो पिछले तीन साल से अवैध हथियारों की खरीद फरोख्त में लिप्त थे। तीन साल में इन्होंने 500 अवैध हथियारों की सप्लाई कर दी है।

0
42
अवैध हथियार

अवैध हथियार तस्करी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। यह दोनो पिछले तीन साल से अवैध हथियारों की खरीद फरोख्त में लिप्त थे। तीन साल में इन्होंने 500 अवैध हथियारों की सप्लाई कर दी है। स्पेशल सेल डीसाीपी जसमीत सिंह के मुताबिक एसीपी अतर सिंह की देखरेख में इंस्पेक्टर शिवकुमार और जितेन्द्र मावी की टीम ने दो कुख्यात तस्करों को दिल्ली के मोदी मिल के पास कैप्टन गौड़ मार्ग पर गिरफ्तार किया।

पुलिस गिरफ्त में हथियार तस्कर औऱ जब्त हथियार

डीसीपी जसमीत सिंह के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली थी कि एमपी के अवैध हथियार सिंडिकेट दिल्ली एनसीआर में हथियार तस्करी कर रहे हैं। 22 अगस्त को सूचना मिली की सिंडिकेट के दो लोग प्रमोद औऱ रोहताश मोदी मिल के पास बस स्टाप पर पहुंचेंगे। इसी सूचना के आधार पर छापे के लिए पुलिस टीम बनाई गई। पुलिस ने रोहताश और प्रमोद के बैग से .32 बोर के 7 सेमी आटोमेटिक और 5 सिंगल शॉट पिस्टल के अलावा 45 कारतूस बरामद किए।

पूछताछ में पता लगा कि दोनो हथियार की खेप मध्य प्रदेश के सेंधवा में मौजूद कुख्यात हथियार तस्कर से लेकर आए थे। पूछताछ में उन्होंने बताया कि वह लोग हरियाणा, दिल्ली और एनसीआर में पिछले तीन साल से हथियार तस्करी कर रहे हैं। अब तक ये लोग करीब 5 सौ अवैध हथियार बेच चुके हैं। सेमी आटोमेटिक 25 हजार और सिंगल शॉट पिस्टल 10 हजार में बेचा जाता था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 4 =