हरियाणा के 4 डिजिटल गैंगस्टर गिरफ्तार

0
590

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। साउथ-ईस्ट दिल्ली पुलिस की एसटीएफ ने हरियाणा के चार डिजिटल गैंगस्टर को गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई है। गैंग का सरगना हॉकी चैंपियनशिप में भी हिस्सा ले चुका है। भाई की हत्या के बाद उसने अपराध की दुनिया से दोस्ती कर ली थी। इनके कब्जे से चार तमंचे दर्जन से ज्यादा गोलियां और हरियाणा से लूटी गई फार्च्यूनर कार और दिल्ली से चोरी की गई होंडा , सिटी कार भी बरामद की गई है। पुलिस के मुताबिक लूटपाट और कार जैकिंग के कई मामलो में इनकी तलाश थी। दहशत कायम करने के लिए गैंग सरगना सोशल मीडिया पर हथियार सहित वीडियो-फोटो डाला करता था।

पकड़े गए बदमाश उनसे बरामद हथियार और कार के साथ पुलिस हिरासत में

साउथ ईस्ट दिल्ली पुलिस के डीसीपी चिन्मॉय विस्वाल के मुताबिक एसीपी जगदीश यादव की देखरेख में इंस्पेक्टर मुकेश मोगा के नेतृत्व में अमर कालोनी में तैनात एसआई ईश्वर, एएसआई हरबीर सिंह, कृपाल, हवलदार सांगवान, अनिल कुमार, महेश, सिपाही अरविंद, अमृत, मनोज, शांतवीर और अनुज की विशेष टीम जेल से बेल पर छूटे बदमाशों पर नजर रख रही थी। उसी दौरान हरियाणा के इन पकड़े गए बदमाशों के बारे में सूचना मिली। विशेष सूचना के आधार पर पुलिस ने मां आनंदमयी मार्ग पर जाल बिछाकर चोरी की होंडा सिटी कार में आ रहे जगदीप उर्फ मोनी औऱ राहुल उर्फ राजन को गिरफ्तार किया। इनकी निशानदेही पर मजीत उर्फ रॉकी और रविन्द्र उर्फ जोगिन्द्र को गिरफ्तार किया।

पूछताछ में पता चला कि इस गैंग का सरगना जगदीप है। वह जिंद के निर्वाणा गांव का रहने वाला है। वह नेशनल हॉकी चैंपियनशीप में हरियाणा का प्रतिनिधित्व कर चुका है। उसने जूनियर इंडिया हॉकी टीम के साल 2013 में हुए चयन में भी हिस्सा ले चुका है। गांव के ही एक झगड़े में भाई की हत्या के बाद उसने क्राइम वर्ल्ड में कदम रखा था। इसके बाद उसने कई गैंग में काम किया और फिर अपना गिरोह बना लिया। दहशत कायम करने के लिए हथियारों के साथ वह कई बार फोटो वीडियो बनाता औऱ सोशल मीडिया पर डाला करता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve + 19 =