पकड़ा गया ड्रग-आतंक का मास्टरमाइंड रणजीत राणा उर्फ चीता

0
212

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। 532 किलो हेरोइन की तस्करी के मामले में वांछित रणजीत राणा उर्फ चीता को उसके भाई समेत गिरफ्तार कर लिया गया है। हरियाणा के सिरसा में यह कार्रवाई अंजाम दी गई। एनआईए पंजाब व हरियाणा पुलिस की संयुक्त टीमों ने दोनों तस्करों रणजीत सिंह और उसके भाई गगनदीप को काबू किया है।

दोनों नशा तस्करों को पकड़ने के लिए तीनों टीमों ने जिले के गांव बेगू में एक ऑपरेशन चलाया था। दोनों सगे भाई हैं और नशा तस्करी के अन्य मामलों में भी आरोपी हैं। दोनों काफी समय से फरार चल रहे थे। पता चला है कि तरनतारन निवासी ये दोनों भाई पिछले नौ महीनों से सिरसा में ही रह रहे थे। एनआईए सूत्नों के मुताबिक रंजीत सिंह उर्फ राणा उर्फ चीता के हिजबुल मुजाहिदीन से भी तार जुड़े हुए थे। यह तार आतंकियों के वित्तीय लेनदेन की वजह से बना हुआ था। रंजीत सिंह मूल रूप से पंजाब के अमृतसर का रहने वाला है। NIA ने साल 2019 में दिल्ली स्थित NIA मुख्यालय में दर्ज किया था एक मामला …उस मामले में शेरा उर्फ इक़बाल सिंह समेत रंजीत सिंह को तलाशा जा रहा था। साल 2019 में NIA ने 532 किलो हेरोइन जब्त किया था। यह खेप पाकिस्तान से मंगवाया गया था । खेप 29 जून 2019 को ICP अटारी बॉर्डर के रास्ते अवैध तौर पर मंगवाया गया था। पाकिस्तान के रहने वाले कई नशे के कारोबार करने वाले तस्करों ने भारत के अंदर रची थी ये साजिश इस मामले में साल 2019 के दिसंबर महीने कोर्ट में दायर किया जा चुका है आरोपपत्र.. उस आरोपपत्र में15 आरोपियों और पांच आरोपी कंपनियों को आरोपी बनाया गया है।
बता दें कि रणजीत राणा उर्फ चीता देश के बड़े नशा तस्करों में से एक है। पुलिस पूछताछ में इनसे कई जानकारियां मिल सकती हैं, जिनके आधार पर कई बड़े गिरोह का पर्दाफाश हो सकता है। एसपी सिरसा अरुण नेहरा ने बताया कि फिलहाल दोनों से पूछताछ चल रही है और कई खुलासे होने की उम्मीद है।
एनआईए दोनों को साथ लेकर पंजाब रवाना हो गई है। पंजाब पुलिस और हरियाणा पुलिस सहित एनआईए की टीम ने अभियान सुबह करीब 4:00 बजे शुरू किया गया था। एनआईए ने उस मकान की भी तलाशी ली, जिसमें दोनों रह रहे थे। मकान को सील कर दिया गया है।

बता दें कि रंजीत उर्फ चीता और गगनदीप पिछले कई महीनों से सिरसा में रह रहे थे। रंजीत ने अपनी साली के पति की आईडी पर किराए का मकान लिया हुआ था। यह मकान बेगू रोड पर एकांत में स्थित है। दोनों भाई अमृतसर में पकड़ी गई 532 किलो हेरोइन मले में फरार हो गए थे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here