दिल्ली एनसीआर में इस तरह रहेगा पहरा

0
266

नई दिल्ली, इंडिया विस्तार। गणतंत्र दिवस के मद्देनजर दिल्ली और एनसीआर में जमीं से आसमां तक कड़े सुरक्षा प्रबंध होंगे। इस बार सुरक्षा का बहुचक्रीय मॉडल अपनाया जा रहा है। शुरू के तीन चक्र दिल्ली पुलिस का होगा इनका काम नई दिल्ली के बॉर्डर सील करना है दो एडिशनल डीसीपी इसे मोनिटर करेंगे। पहले चक्र में सिर्फ पास वालों का प्रवेश दूसरे में गाड़ियों की जांच और तीसरे में शारीरिक जांच। चौथे चक्र में विशिष्ट लोगों के लिए दिल्ली पुलिस की सिक्योरिटी यूनिट होगी।

सुरक्षा जांच और पहरे के लिए स्वाट अर्धसैनिक बल के अलावा करीब 500 एक्सरे मशीन लगाए गए हैं।एनएसजी की स्वेट टीम, स्पेशल सेल की स्वेट टीम, एंटी टेरर के चलते, एनएसजी की एंटी ड्रॉन टीम भी होगी।परेड रूट पर टोटल 1000 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।

कुछ जगह फेशियल रिकॉनाइजेशन सॉफ्टवेयर की मदद से जांच की जा रही है यह चेहरों की शिनाख्त करने में माहिर सॉफ्टवेयर है ये स्पेसिफिक जगहों पर लगेंगे ऐसे 100 से ज्यादा कैमरे लगे है।

48 कंपनी पैरामिलिट्री, 17,000 दिल्ली पुलिस के जवान, 2700 सादे कपड़ों में दिल्ली पुलिस की तैनाती निगाह रखने के लिए रहेगी।

पराक्रम, प्रखर की तैनाती भी की गई है।मोबाइल पुलिस कंट्रोल रूम 10 से ज्यादा लगाए जाते है।10 सीसीटीवी कंट्रोल रूम बनाए गए है।ट्रैफिक पुलिस के 2000जवान लगाए जाएंगे, इनका काम पार्किंग साइनिंग, लोगो को गाइड करना, बॉर्डर सीज करना है। दिल्ली एनसीआर गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान नो फ्लाइंग जोन रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 + seventeen =